कृषि बिल के विरोध में आयोजित ट्रैक्टर रैली के समर्थन में अम्बारी पूर्व सांसद रमाकांत यादव व किसानों को प्रशासन ने रोका

0
45

अम्बारी, फूलपुर,आजमगढ़। गणतंत्र दिवस पर किसानों की तरफ से कृषि बिल के विरोध में आयोजित ट्रैक्टर रैली के समर्थन में अम्बारी में तमाम बंदिशों के बाद भी ट्रैक्टर रैली निकालने को लेकर कई जगह तनाव की स्थिति बनी रही। वही शेरे पुर्वांचल पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने अपने अम्बारी आवास दीदारगंज रोड से ट्रैक्टर रैली अम्बारी चौक पर ले जाने पर प्रशासन ने रोक दिया ।
फूलपुर क्षेत्र के अम्बारी बाजार में पूर्वांचल के कद्दावर नेता शेरे पुर्वांचल पूर्व सांसद सपा नेता रमाकांत यादव के नेतृत्व में आस पास के गांव से करीब 1000 एक हजार ट्रैक्टर पर सवार किसान अम्बारी बाजार चौक पर पहुंचे। ट्रैक्टर रैली निकालने को लेकर प्रशासन से कहा सुनी भी हुई । वहीं प्रशासन ने पहले से ही ट्रैक्टर रैली के साथ ही किसी भी रैली को बिना अनुमति के नहीं निकालने की हिदायत दी थी , जनपद में धारा 144 लागू होने की बात कही थी। लेकिन इसके बाद भी करीब दो हजार की संख्या में लोग सपा के झंडे डंडे के साथ ट्रैक्टर रैली निकालने को लेकर पूर्व सांसद रमाकांत यादव के अम्बारी आवास पर जमा हो गए। प्रशासन के लोग सुबह 8 बजे ही अम्बारी चौक पर कई थानों की पुलिस तैनात कर गयी । पुलिस प्रशासन और किसानों के बीच बातचीत का आमना-सामना होता रहा । जिसके कारण माहुल रोड , फूलपुर रोड , शाहगंज रोड और दीदारगंज रोड पुरी तरह से जाम हो गया । और कई घंटों बाजार में जाम लगा रहा , पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने स्वयं ट्रैक्टर चलाते हुए लोगो के बीच मे किसानों की ट्रैक्टर रैली सम्बोधित करते हुए अम्बारी चौक पर पहुचे। जहाँ प्रशासन पहले से किसान ट्रैक्टर रैली रोकने के लिए तैयार था ।
इस दौरान एसडीएम फूलपुर रविंद्र सिंह , तहसीलदार नवीन प्रसाद , क्षेत्राधिकारी जितेन्द्र कुमार ने पूर्व सांसद रमाकान्त यादव को ट्रैक्टर रैली को आगे न बढ़ाने के लिए समझाते रहे । प्रशासन की सख्ती और मिजाज को ध्यान में रखते हुए फूलपुर रोड पर ट्रैक्टर रैली को लाकर उपजिलाधिकारी रावेन्द्र कुमार सिंह के कहने पर रैली को समाप्त करने की घोषणा कर दी । वही पूर्व सांसद रमाकान्त ने कहा कि यह मत भूलो मैं एक किसान का बेटा हु , यहाँ पर तैनात प्रशासन भी किसान का बेटे है । इसीलिए हम आपस मे टकराव नही चाहते है । किसानों के हित के लिए हमें हफ़्तों अगर सड़क पर अनशन करना होगा तो करेंगे । मोदी और योगी किसानों का दर्द क्या जाने । किसानों का दर्द तो केवल किसान और किसान का बेटा ही जानेगा । और वहीं कोतवाल फूलपुर रत्नेश कुमार सिंह,थाना अध्यक्ष अयोध्या प्रसाद तिवारी , पुलिस चौकी प्रभारी राजेन्द्र प्रताप सिंह एवं कई थानों की फोर्स के साथ ट्रैकटर रैली को बिना अनुमति के नहीं निकलने देने को लेकर मौके पर मौजूद रही

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें