विद्युत अधिकारियों के भ्रष्टाचार का फिर हुआ एक बड़ा खुलासा

0
10

भरवारी कौशाम्बी विद्युत विभाग कौशाम्बी के अधिकारियों का एक बड़ा झूठा कारनामा फिर सामने आया है फर्जी विद्युत बिल बना कर उपभोक्ता पर बकाया दिखा कर शासन को गुमराह करने की विद्युत विभाग की पुरानी परंपरा है इसी भ्रष्टाचार योजना के तहत विद्युत विभाग में बड़ा भ्रष्टाचार फैला हुआ है लेकिन इस पर शासन भी गंभीर नहीं है वाह वाही लूटने वाले विद्युत विभाग के अधिकारी फर्जी विद्युत बिल बना कर उपभोक्ताओं पर फर्जी बकाया की सूची भेज कर अधिकारियों को बराबर गुमराह कर रहे हैं फर्जी विद्युत बिलिंग विभाग की भूल नहीं है इसकी आड़ में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार पनप रहा है विभाग द्वारा बड़े पैमाने पर विद्युत चोरी कराई जाती है तमाम कटिया धारको से अवैध धना दोहन विभाग द्वारा किया जाता है जब विद्युत की यूनिट की खपत में अंतर आने लगता है तो मनमानी तरीके से विद्युत बिल उपभोक्ताओं को भेजकर शासन को गुमराह कर चोरी पर पर्दा डालकर अपने को बचाने का प्रयास बिभाग के अधिकारियों द्वारा होता है एक उपभोक्ता का निर्धारित विद्युत बिल से 700 गुना अधिक विद्युत बिल बनाकर विभाग ने भेजा है बिल पाते ही उपभोक्ता का परिवार बेचैन हो उठा है मामला भरवारी कस्बे का है भरवारी कस्बे के विधुत उपभोक्ता मनोज कुमार केशरवानी के यहां बीते महीने तक लगभग आठ हजार रुपये तक का बिल आया करता था जबकि इस बार विधुत बिल उनसठ लाख 28 हज़ार तीन सौ ग्यारह रुपये बिल आया है विभाग की यह साजिश बड़ी जांच का विषय है रिपोर्ट मोहन लाल गौतम ब्यूरो चीफ के मास न्यूज़ कौशाम्बी