35 साल बाद किसान परिवार के घर आई लक्ष्मी, आज पोती को असमान से जमीन पर उतारेंगे दादा

0
10

देश में बेटियों को लक्ष्‍मी का रूप माना जाता है। कहा जाता है कि जिस घर में बेटी होती है वह घर स्वर्ग से सुंदर होता है। राजस्थान का एक किसान भी बेटियों को भगवान का रूप ही मानता हैं, शायद यही कारण है कि वह हाल ही में जन्मी अपनी पोती को हेलीकॉप्टर से घर लेकर लाएंगे। इस परिवार में 35 साल बाद पैदा हुई बेटी के शानदार स्वागत को देखने के लिए हर कोई बेताब है।हम बात कर रहे हैंनागौर जिले के नीमडी चांदावता गांव के रहने वाले मदनलाल कुम्हार की। उनके बहू ने एक बेटी को जन्म दिया है, खास बात है कि उनके परिवार में 35 साल बाद कन्या पैदा हुई है। परिवार मेंसे बच्चे तो पैदा होते रहे, लेकिन इनमें बिटिया नहीं हुआ करती थी, काफी मन्नतों और इंतज़ार के बाद जब बेटी होने की तमन्ना पूरी हुई तो घरवालों खुशी से झूम उठे। अब मदनलाल ने अपने फसल बेचकर हेली​कॉप्टर का इंतजाम किया और इसी में पोती को बैठाकर ननिहाल से घर लाएंगेनिजी खेत में हेलीकॉप्टर उतारने के लिए बच्ची के दादा मने नागौर जिला कलेक्टर से अनुमति मांगी है। इजाजत मिलने पर हेलीपेड बनाने का काम शुरू हुआ और आज नन्ही सी बच्ची अपने दादा के घर आएगी। मदनलाल का कहना है कि कन्या के जन्म होने पर उनके घर और परिवार में बहुत ही खुशी का माहौल है। बच्ची के स्वागत के भी विशेष इंतजाम किए गए हैं। उन्होंने लोगों से भी कन्या के जन्म होने पर उसी तरह से जश्न मनाने की अपील की