कोरोना फैलने की डर से गाँव में नहीं होने दिया अंतिम संस्कार,साइकिल पर शव रख कर भटकता रहा बुज़ुर्ग

0
86

कोरोना का क़हर :इस महामारी के समय में ऐसी- ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं जिसको देखकर हर किसी का मन दुखी हो जा रहा है. ऐसी ही एक और तस्वीर उत्तर प्रदेश के जौनपुर से आई है. यहां कोरोना के डर से एक बुजुर्ग शमशान अपनी पत्नी का शव साइकिल से लेकर जा रहा है. बताया जा रहा है कि कोविड से बूढ़ी महिला की मौत हो गई थी और स्थानीय ग्रामीणों ने संक्रमण फैलने के डर से गांव में उसका दाह संस्कार नहीं होने दिया,अपनी पत्नी का अंतिम संस्कार के लिए जगह की तलाश में बुजुर्ग व्यक्ति को घंटों साइकिल पर शव लेकर इधर- उधर भटकना पड़ा. तस्वीर में बूढ़ा आदमी सड़क के किनारे बैठा दिखाई दे रहा है जबकि महिला का शरीर साइकिल के साथ सड़क पर पड़ा है. हालांकि इस घटना की जानकारी मिलने के बाद जौनपुर पुलिस ने मंगलवार को रामघाट पर महिला का अंतिम संस्कार किया.

मृतक का अंतिम संस्कार करने में बुजुर्ग व्यक्ति की मदद के लिए स्थानीय लोग आगे नहीं आए. उन्होंने उसे गांव के श्मशान घाट में अपनी पत्नी का दाह संस्कार नहीं करने की चेतावनी भी दी. हालांकि, जिला प्रशासन ने पुष्टि नहीं की है कि मृतक कोविड पॉजिटिव थी या नहीं