किसानों को वैज्ञानिकों ने किया प्रशिक्षित प्राकृतिक खेती करने पर दिया दबाव

0
117

बरदह आजमगढ़ (इरी) अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान एवं प्रतिष्ठित एग्रीकल्चर कंपनी बायर क्राप साइंस के संयुक्त तत्वाधान में गिड्उर गांव में एफपीओ एके पीसीएल प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड के निदेशक सीईओ विजय प्रकाश सिंह के 4 एकड़ खेत में हैंड्स ऑन ट्रेनिंग प्रोग्राम जीएचजी वाटर एंड स्वायल मेजरमेंट का आयोजन किया गया जिसमें धान के खेत से निकलने वाली ग्रीनहाउस गैस का निर्धारण एवं कम करने की परियोजना सिंचाई प्रबंधन मृदा नमूना एकत्रीकरण एवं जांच जलवायु परिवर्तन एवं कृषि की विभिन्न तकनीकी पर प्रशिक्षण दिया गया प्रशिक्षण लेने आए देश के विभिन्न प्रदेशों हरियाणा पश्चिम बंगाल तमिलनाडु कर्नाटका मध्य प्रदेश एवं उत्तर प्रदेश से कुल 15 विद्यार्थी शामिल हुए वहीं पर प्रशिक्षण देने वाले वैज्ञानिकों में डॉ अजय कुमार मिश्र सीनियर सहायक वैज्ञानिक इरी सार्क वाराणसी, डॉक्टर पुरंदरे जी बायर क्रॉप साइंस इंडिया डॉक्टर मुनमुन राय जी इरी वाराणसी डॉक्टर चैतन्य जी बायर क्रॉप साइंस इंडिया एवं टेक्निकल एक्सपर्ट मानस जी क्षति कांत जी पीयूष जी आदि लगभग 15 की संख्या में आए वैज्ञानिक एवं विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों एवं किसानों को प्रशिक्षित किया डॉ अजय कुमार मिश्र ने ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन मृदा परीक्षण एवं सिंचाई प्रबंधन पर एक विस्तृत व्याख्यान भी दिया प्रशिक्षण उपरांत सभी 15 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण प्रमाण पत्र एफपीओ के सदस्य किसानों द्वारा वितरित किया गया इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में विभिन्न गांव से उपस्थित किसानों में आद्या प्रसाद दुबे धीरेंद्र उपाध्याय विजय शंकर तिवारी नगेंद्र सिंह बृजेश राय पंकज राय अरुण उपाध्याय कैलाश सिंह सर्वजीत सिंह विजय कुमार सिंह राजेश्वर सिंह संग्राम सिंह राणा सिंह विनोद सिंह समेत लगभग 150 किसानों ने प्रतिभाग किया व्यवस्थापन एवं संचालन विजय प्रकाश सिंह के द्वारा किया गया अंत में मंच का संचालन करते हुए कहाविजय प्रकाश सिंह ने आए हुए सभी विशिष्ट जनों वैज्ञानिक गण एवं किसान अन्नदाता का अभिवादन करते हुए आभार व्यक्त किया

In