भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, आज़मगढ़ जिला काउंसिल

0
15

** 103 सीताराम,आज़मगढ़ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी कार्यालय-आज़मगढ़।

दिनांक-31 मार्च 2024 को जारी बयान बयान की प्रेसवार्ता।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी आज़मगढ़ के जिला सचिव व राज्य परिषद सदस्य कॉमरेड जितेंद्र हरि पांडेय (एडवोकेट) एवं भाकपा एवं भाकपा जिला कमेटी सदस्य और संसदीय निर्वाचन क्षेत्र लालगंज से उम्मीदवार का.गंगादीन निम्नलिखित बयान आज पार्टी के जिला कार्यालय, आज़मगढ़ पर संपन्न प्रेस वार्ता में जारी किया है।
लखनऊ- 31 मार्च 2024, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की जिला काउंसिल की तरफ से जिलामंत्री का.जितेंद्र हरि पांडेय ने पार्टी द्वारा किये गये आंदोलनों और अभियानों उजागर करते हुये कहा कि भाजपा के 9 वर्षों के शासनकाल में देश के किसानों, मजदूरों, नौजवानों, महिलाओं, अल्पसंख्यकों, दलितों और आम आदमी की दिक्कतों में भयावह इजाफा हुआ है। अवाम की ज्वलंत समस्याओं से निपटने में सरकार पूरी तरह असाफल रही है।

किसानों को उनकी फसलों का समर्थन मूल्य सरकार द्वारा वायदा करने के बावजूद नहीं दिया जा रहा, जबकि उनकी जरूरत की चीजें बेहद महंगी हो चुकी हैं। निरंतर घाटे में जा रहे किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं या फिर आंदोलन करने को। उनके आंदोलनों को भी पुलिस- प्रशासन के बल पर कुचला जा रहा है। मजदूरों के हक हकूक को दबाया जा रहा है।

बेरोजगार नौजवानों से 2 करोड़ रोजगार देने के वायदे से ये सरकार मुकर गई और आज करोड़ों नौजवान दर दर की ठोकरें खा रहे हैं। पर्चा लीक व अन्य कारणों से प्रतियोगी परीक्षाएँ रद्द कर दी जाती हैं और नौजवान गहरे आर्थिक और मानसिक उत्पीड़न का दंश झेलते हैं। शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं के निजीकरण से ये आम छात्रों और आमजनों के लिए दुर्लभ होती जा रही है।

गरीबी अमीरी की खाई निरंतर चौड़ी हो रही है। गरीबी की इस भयावह स्थिति को सरकार भी कबूल करती है और 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन देने के दावे करती रहती है। विकास कार्यों में भारी भ्रष्टाचार है। महंगाई ने आम लोगों की कमर तोड़ दी है।

दलितों महिलाओं और अल्पसंख्यकों का जिस तरह उत्पीड़न देखने को मिल रहा है।इस सरकार में न्यायिक हिरासत में मौत और मुठभेड़ का आंकड़ा सबसे ऊपर है जो ऐसा पहले कभी नहीं दिखा। कानून व्यवस्था चरमराई हुयी है और कुख्यात बुलडोजर अब आम लोगों को ही निशाना बना रहा है।

अपनी तमाम असफलताओं से डरी सरकार लोकतन्त्र को कुचलते हुये विपक्ष को तहस नहस करने पर आमादा है। तमाम विपक्षी नेताओं और उनके परिवारों को ईडी, सीबीआई, आईटी आदि की कार्यवाहियों से जेलों में डाला जारहा है। अनेक असली भ्रष्टाचारी भाजपा में प्रवेश कर रहे हैं और सत्ता का सुख भोगते हुये निर्भय बने हुये हैं। संविधान और लोकतन्त्र को खत्म करने की साजिश है। विभाजन पैदा करने को हर हथकंडा प्रयोग किया जा रहा है।

बावजूद इन हथकंडों के भाजपा का आत्मविश्वास डिगा हुआ है। देश हित में और जनहित में भाजपा को हराया जाना बहुत्त जरूरी हो गया है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी  “भाजपा हराओ देश बचाओ” के नारे के साथ वामपंथी दलों के साथ मिल कर लगातार संघर्षरत है। वह इंडिया गठबंधन का हिस्सा है और पूरे देश में भाजपा को हराने का काम करेगी’।

उत्तर प्रदेश में भी हम मिल कर लड़ने की प्रबल इच्छा रखते थे, लेकिन कुछ दलों ने संकीर्णता का परिचय देते हुये लोकसभा सीटों का बंदर बांट कर लिया। हाल में इलैक्शन बांड भुनाने के हुये खुलासों से यह स्पष्ट तो हो ही गया है कि सभी पूंजीवादी दल कारपोरेट घरानों और माफियाओं से बड़े पैमाने पर रक़में लेते हैं। लेकिन वामपंथी दल देश की मेहनतकश जनता के हित में संघर्ष करते हैं और उन्हीं के सहयोग से चुनाव लड़ते हैं। अतएव लगता है कि कारपोरेट जगत को तुष्ट करने को वामपंथ को अलग थलग किया जारहा है।

भाकपा अपने जनाधार को सुरक्षित करने और भाजपा की जनविरोधी नीतियों को उजागर करते हुये उसे परास्त करने तथा लोकसभा में भाकपा का प्रतिनिधित्व बढ़ाने के उद्देश्य से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने कुछ चुनींदा 5 लोकसभा सीटों पर जिसमे शाहजहांपुर (सुरक्षित) से सुरेश कुमार,फैजाबाद से पूर्व आईपीएस अरविंद सेन यादव,लालगंज (सु) से कामरेड गंगादीन,घोसी से विनोद राय, राबर्ट्सगंज(सु) से अशोक कुमार कन्नौजिया के नामों की घोषणा 28 मार्च को लखनऊ पार्टी राज्य मुख्यालय से की जा चुकी है। राज्य नेतृत्व जिलों के पार्टी कार्यकर्ताओं की मांग पर कुछ और उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करेगा जिसमे आज़मगढ़ पर विचार विमर्श चल रहा है। उल्लेखनीय है कि संसदीय निर्वाचन क्षेत्र लालगंज से भाकपा के उम्मीदवार लगातार चुनावी समर में हिस्सा लेते रहे हैं और वहां पार्टी का जनाधार भी अच्छा खासा है।लालगंज निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव में मजबूती के साथ उतरने हेतु एक जिला स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन आगामी 13 अप्रैल को निज़ामाबाद में किया जाएगा।जिसमे पार्टी राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं उप्र प्रभारी डॉ. गिरीश शर्मा और राज्य सचिव कॉमरेड अरविंद राज स्वरूप विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।
द्वारा जारी

जितेंद्र हरि पांडेय(एडवोकेट)
जिला सचिव भाकपा आज़मगढ़
दिनांक-31 मार्च 2024

In

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

18 + 7 =