नागपुर :घर छोड़ आटो वाले से आश्रय माँगना पड़ा भारी,कुछ घंटो में 6 आरोपियों ने 2 बार किया गैंगरेप

0
89

नागपुर :महाराष्ट्र (Maharashtra) के नागपुर (Nagpur) में पारिवारिक झगड़े (family quarrel)के बाद ग़ुस्से में घर छोड़कर निकली एक नाबालिग लड़की (Minor girl) से दो अलग-अलग स्थानों पर कुछ घंटे के भीतर छह लोगों ने गैंगरेप (gang-rape)किया है. आरोपियों में से चार आटोरिक्शा चालक शामिल हैं. पुलिस ने रविवार को बताया कि तीन आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.एक अधिकारी ने बताया कि गुरुवार की रात तिमकी इलाके में एक कमरे में नाबालिग का चार लोगों ने यौन उत्पीड़न किया और इसके बाद मायो अस्पताल चौराहे के निकट दो लोगों ने ऑटोरिक्शा में उससे कथित तौर पर दुष्कर्म किया. पुलिस ने बताया कि अनुसूचित जाति से ताल्लुक़ रखने वाली लड़की का घर में भाभी से झगड़ा हो गया था. पुलिस ने बताया कि इसके बाद वह घर छोड़कर निकल गई और उसके एक दोस्त ने उसे अपने ऑटोरिक्शा से लोहापुल इलाके में छोड़ दिया, जहां वह एक ऑटोरिक्शा चालक से मिली, जिसकी पहचान बाद में शाहनवाज उर्फ़ सना मोहम्मद राशिद (25) के रूप में हुई.

धिकारी ने प्राथमिकी के आधार पर बताया कि लड़की ने शाहनवाज से पैसे और आश्रय की मदद मांगी और वह मदद देने के बहाने उसे अपने ऑटोरिक्शा में बिठाकर एक अवैध शराब की दुकान पर लेकर गया, जहां उसने शराब पी और लड़की को भी पीने को मजबूर किया. इसके बाद वह उसे तिमकी में दो लोगों के किराये के घर में ले गया, जो नागपुर रेलवे स्टेशन पर लोडर (सामान चढ़ाने-उतारने) का काम करते हैं. अधिकारी ने बताया कि वहां लड़की से शाहनवाज, उसके दोस्त तौशीफ मोहम्मद यूसुफ (26) और दो लोडर ने दुष्कर्म किया.