चन्दौली/ सरकार द्वारा संचालित मिशन शक्ति फेज-3 कार्यक्रम का शुभारंभ

0
32

चन्दौली/ जनपद के कृषि विज्ञान केंद्र में भव्य आयोजन कार्यक्रम किया गया। जिलाधिकारी संजीव सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित कुमार, माननीय विधायक मुगलसराय श्रीमती साधना सिंह, माननीय विधायक सैयदराजा सुशील सिंह की उपस्थिति में दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया । इस अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थित नारी शक्ति को संबोधित करते हुए कहा कि मिशन शक्ति फेज-3 का उद्देश्य महिलाओं की सशक्तिकरण और उनकी प्रगति से है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान व उन्हें स्वावलंबी बनाने से है। उन्होंने कहा कि परिवार व समाज के विकास का प्रमुख आधार हमारी महिलाएं ही हैं। इस मिशन के अंतर्गत महिलाओं को सुरक्षा सम्मान के साथ ही उन्हें आर्थिक स्वावलंबी बनाने की दिशा में कार्य करना है। उन्होंने कहा की बालिका शिक्षा, बालिकाओं के स्वास्थ्य, पोषण का विशेष ध्यान रखते हुए हम इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही कर सकते हैं। इस अभियान के तहत महिला सशक्तिकरण के लिए सरकार द्वारा विभिन्न विभागों के माध्यम से अनेक कार्यक्रम संचालित है। महिलाओं को कानूनी सुरक्षा से लेकर उनके आर्थिक विकास व स्वावलंबन की दिशा में अनेक कार्य किए जा रहे हैं । महिला एवं बाल विकास, महिला कल्याण विभाग, स्वास्थ्य विभाग आदि विभागों द्वारा बच्चियों के जन्म से लेकर उनकी शिक्षा तक अनेक महत्वपूर्ण कार्यक्रम संचालित है।

इसके साथ ही महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महिलाओं के लिए सुपोषण योजना, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना , उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, निराश्रित विधवा पेंशन योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आदि कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं । महिलाओं के प्रति होने वाले घरेलू हिंसा व लिंगानुपात में कमी लाने के लिए अनेक प्रयास किए जा रहे हैं। इसी प्रकार चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, जननी सुरक्षा योजना, संस्थागत प्रसव, सुरक्षित मातृत्व अभियान सहित अनेक चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। स्वयं सहायता समूहो द्वारा महिलाओं को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। इससे ग्रामीण स्तर पर महिलाओं का समुचित स्वावलंबन हो रहा है।

 

कार्यक्रम के दौरान पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे देश में महिलाएं शुरू से ही शसक्त रही है। अतीत से ही महिला सशक्तिकरण से संबंधित अनेक उदाहरण मिलते हैं।

उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए अनेक कार्य किए जा रहे हैं। पीड़ित महिलाओं को कानूनी सहायता उपलब्ध कराने के साथ उनकी सुरक्षा के लिए हेल्प डेस्क के माध्यम से उनसे लगातार संवाद स्थापित किया जा रहा है । महिलाओं के प्रति कोई अपराध न हो इसके लिए प्रभावी कार्रवाई की जा रही है।

माननीय विधायक श्रीमती साधना सिंह ने इस अवसर पर उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि नारी की सुरक्षा एवं सम्मान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में है। केंद्र व राज्य सरकार महिलाओं के उत्थान के लिए अनेक योजनाएं एवं कार्यक्रम चला रही है। उन्होंने कहा कि सरकार हर क्षेत्र में महिलाओं को सामान अवसर उपलब्ध करा रही है। सरकार महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्ध है । महिलाओं को भी अपनी झिझक दूर करके आगे आना होगा। उन्हें भी अपनी सोच बदलनी होगी। बेटा और बेटी को बराबर समझना होगा। उन्होंने कहा कि बेटा और बेटी में भेद ना करें। उन्होंने कहा कि लिंग जांच करा कर भ्रूण हत्या जैसा कुकृत्य न किया जाय। कार्यक्रम के दौरान बाल विकास, ग्रामीण आजीविका मिशन, पुलिस विभाग, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग आदि से संबंधित उत्कृष्ट कार्य करने वाली 75 महिलाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान कार्यक्रम का सजीव प्रसारण सूचना जनसंपर्क विभाग के द्वारा उपलब्ध कराई गई एलईडी वैन के माध्यम से किया गया। इस अवसर पर माननीय विधायक का श्रीमती साधना सिंह एवं जिलाधिकारी द्वारा महिलाओं को रक्षाबंधन त्योहार की शुभकामनाएं दी गई। कार्यक्रम के अंत में उपस्थित नारी शक्तियों द्वारा जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को रक्षाबंधन के पूर्व संध्या पर हाथ में राखी बांधकर शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम का सफल संचालन मुख्य विकास अधिकारी अजितेंन्द्र नारायण द्वारा किया गया। इस अवसर पर जिला विद्यालय निरीक्षक , डीसी मनरेगा , जिला पंचायत राज अधिकारी , जिला प्रोबेशन अधिकारी , जिला समाज कल्याण अधिकारी , दिव्यांगजन अधिकारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व महिलाएं
उपस्थित थे।
के मास न्यूज
सतीश कुमार सिंह