उ0प्र0 लोक सेवा आयोग की परीक्षा को सकुशल सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें : जिलाधिकारी

0
50

आजमगढ़ 22 अक्टूबर– जिलाधिकारी राजेश कुमार ने कहा कि उ0प्र0 लोक सेवा आयोग की परीक्षा उ0प्र0 की ही नही बल्कि देश की प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक है, इसमें कई प्रदेशों के अभ्यर्थी परीक्षा देते हैं। इसका अपने आप में बहुत बड़ा महत्व है। उन्होने कहा कि इसलिए हम सभ्ी अधिकारियों की ये जिम्मेदारी है कि परीक्षा को शुचितापूर्ण एवं नकलविहीन सम्पन्न करायें।
जिलाधिकारी राजेश कुमार ने आज नेहरू हाल में आगामी 24 अक्टूबर 2021 को होने वाली उ0प्र0 लोक सेवा आयोग की परीक्षा को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए आयोजित ट्रेनिंग कैम्प में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी की शीर्ष प्राथमकिता है कि परीक्षा की शुचिता हर हाल में बनी रहे, इसमें किसी भी प्रकार की अनियमितता नही होनी चाहिए। उन्होने कहा कि परीक्षा संबंधी सभी कार्य निर्धारित समय में पूर्ण कर लिया जाना सुनिश्चित करें। अपनी ड्यूटी एवं दायित्वों का निर्वहन पूरी ईमानदारी एवं पूर्ण निष्ठा के साथ करें। उन्होने कहा कि सभी केन्द्र व्यवस्थापक परीक्षा केन्द्रों के दरवाजे, खिड़कियॉ एवं शौचालय की व्यवस्था को सुनिश्चित कर लें। उन्होने कहा कि दिव्यांगजनों का विशेष ध्यान रखते हुए उनकी मांग को पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट, जोनल मजिस्ट्रेट एवं स्टेटिक मजिस्ट्रेट लगातार क्षेत्रों में भ्रमण करते रहें। किसी भी प्रकार का विवाद होने पर तत्काल समाधान करें अथवा उच्च स्तर पर सूचित करें। उन्होने कहा कि परीक्षा के दिन सभी जिला स्तरीय अधिकारी लगातार क्षेत्रों में भ्रमण करते रहना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर अभ्यर्थियों की चेकिंग के लिए पुरूष एवं महिला आरक्षी की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 गाइडलाइन का पालन किया जाना सुनिश्चित करें तथा सभी केन्द्रों पर सेनेटाइजर एवं मास्क अनिवार्य रूप से रखा जाना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि परीक्षा हाल में किसी भी दशा में बैग, मोबाइल अथवा अन्य कोई भी अनुचित सामग्री अभ्यर्थी परीक्षा कक्ष मे न ले जा पाये।
बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, एसपी सिटी पंकज कुमार पाण्डेय, जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ0 वीके शर्मा, सभी केन्द्र व्यवस्थापक, सेक्टर/जोनल/स्टैटिक मजिस्ट्रेट उपस्थित रहे।