पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व बसपा के दिग्गज नेता सुखदेव राजभर का निधन

0
75

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और दीदारगंज से वर्तमान में विधायक सुखदेव राजभर का सोमवार को लखनऊ में निधन हो गया वह 71 वर्ष के थे और  लंबे समय से बीमार थे और निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था. सुखदेव राजभर बसपा के वरिष्‍ठ नेताओं में से एक गिने जाते थे

सुखदेव राजभर का राजनीतिक सफर

आजमगढ़ जिले के बड़गहन गांव निवासी सुखदेव राजभर के एक पुत्र और पांच पुत्रियां हैं। वह वर्ष 1982 से 89 तक अखिल भारतीय राजभर महासंघ के कोषाध्यक्ष और उसके बाद अध्यक्ष रहे।

इसके अलावा विधान परिषद की विभिन्न समितियों के सदस्य भी रहे। वह वर्ष 1991 में पहली बार विधानभा सदस्य चुने गए। इसके बाद वर्ष 1993-1995 में विधानसभा चुनाव जीते और मुलायम सिंह यादव मंत्रिमंडल में राज्य मंत्री सहकारिता, माध्यमिक, बेसिक शिक्षा बने।

वर्ष 1997 से 2002 तक विधान परिषद में रहे। मई 2002 में विधायक चुने गए और अगस्त 2003 तक मायावती मंत्रिमंडल में संसदीय कार्य मंत्री,वस्त्रोद्योग व रेशम मंत्री रहे। वर्ष 2007 से 2012 तक विधानसभा अध्यक्ष रहे। सत्रहवीं विधानसभा के लिए वर्ष 2017 में पांचवीं बार विधायक चुने गए थे।