गाजीपुर में संविधान दिवस पर अधिकारी एवं कर्मचारीयों को शपथ दिलाई गई

0
20

गाजीपुर। जनपद में संविधान दिवस मनाया गया। आपको बताते चलें कि भारत देश में प्रतिवर्ष 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता है, जिसके परिपेक्ष्य में रविवार को जनपद में संविधान दिवस रायफल क्लब सभागार में अपर जिलाधिकारी वि0/र0 अरूण कुमार सिंह की अध्यक्षता में उपजिलाधिकारी सदर एवं समस्त कलेक्ट्रेट के अधिकारी एवं कर्मचारियों की उपस्थिति में संविधान दिवस पर सभी को संविधान की उद्देशिका की शपथ दिलवाई गई। इस अवसर अपर जिलाधिकारी ने बताया, कि संविधान को पूरा होने में 2 साल 11 माह और 18 दिन का समय लगा था, जिसके बाद यह 26 नवंबर 1949 में बनकर तैयार हुआ। इसे लागू होने में कुछ समय लगा। और अंत में हमारा संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ। जिसके बाद से ही इस दिन को प्रतिवर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत का संविधान विश्व में सबसे बड़ा संविधान माना जाता है। संविधान की उद्देशिका की शपथ दिलाने के उपरान्त, उन्होंने ने बताया, कि आज डा0 बी0आर0 आम्बेडकर ने 25 नवम्बर सन् 1949 को संविधान सभा के अंतिम भाषण में कहॉ था कि ”संविधान चाहे जितना अच्छा हो यदि उसे संचालित करने वाले लोग बुरे है, तो वह निश्चित बुरा हो जाता हैं। और यदि उसे संचालित करने वाले लोग अच्छे है, तो वह संविधान निश्चित अच्छा होता है”। इस संगोष्ठि में संविधान में उल्लिखित मौलिक कर्त्तव्यो, एवं डा0 भीमराव अम्बेडकर के विचारों से समस्त कर्मचारीगण को अवगत कराया गया व उनके आदर्शो को अपनाने के लिए प्रेरित किया गया।

जय प्रकाश चंद्रा, ब्यूरो चीफ, गाजीपुर

In

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

four × 4 =