राष्ट्रीय लोक अदालत के दौरान जनपद में निपटाये गये 27,323 वाद

0
28

सुलतानपुर /11 सितम्बर मा0 सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार जनपद न्यायाधीश श्री संतोष राय की अध्यक्षता में शनिवार को प्रातः 10 बजे से राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया, जिसमें कुल 27323 वाद निपटाये गये।
जनपद में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में जनपद न्यायाधीश द्वारा 33 वाद तथा राकेश कुमार त्रिपाठी चेयरमैन मोटर, मोटर एक्सीडेन्ट क्लेम पेटीशन द्वारा 52 वाद मोटर दुर्घटना क्लेम पेटीशन सम्बन्धी निस्तारित किया गया तथा उक्त निस्तारित वादों में पीड़ित परिवार के व्यक्तियों को मु0 1,32,24,000/- रू0 का भुगतान कराया गया। इसके अतिरिक्त परिवार न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश उत्कर्ष चतुर्वेदी एवं अपर प्रधान न्यायाधीश पुष्पा सिंह, प्रतिभा नरायन द्वारा कुल 65 वैवाहिक वादांे जरीये सुलह समझौता निस्तारित किया गया।
इस राष्ट्रीय लोक अदालत में अपर जनपद न्यायाधीश इन्तेखाब आलम, प्रथम अपर न्यायाधीश सुलतानपुर द्वारा कुल 05 वाद और अपर जनपद न्यायाधीश द्वितीय (एस0सी0/एस0टी0) राकेश कुमार यादव द्वारा 01 वाद, नवनीत गिरि द्वारा 01 वाद, मनोज कुमार सिंह द्वारा 99 वाद, पवन कुमार शर्मा द्वारा 04 वाद, अंकुर शर्मा द्वारा 01, कल्पराज सिंह द्वारा 02 वाद, नीलिमा सिंह द्वारा 03 वाद तथा इसके अतिरिक्त वैवाहिक तथा बैंक से सम्बन्धित उपरोक्त समस्त जनपद न्यायाधीश एवं त्रिभुवन नाथ पासवान व प्रदीप कुमार जैन द्वारा कुल 4513 प्रिलिटिगेशन वादों को निस्तारित कराया गया, जिसमें 16 वाद वैवाहिक तथा 4495 बैंकों के ऋण सम्बन्धी वादों में मु0 920285215/- का समझौता किया गया।
उपरोक्त के अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुलतानपुर किरन गौड़ द्वारा 1111 वाद, सिविल जज प्रवर खण्ड सपना त्रिपाठी द्वारा 56 वाद, इसके अतिरिक्त अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट बटेश्वर कुमार द्वारा 416, अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट योगेश कुमार द्वारा 332 वाद, साईमा जर्रार आलम द्वारा 408 वाद, न्यायिक मजिस्ट्रेट कक्ष संख्या 23 दीपांकर यादव द्वारा 410 वाद, न्यायिक मजिस्ट्रेट कक्ष संख्या 31 देवर्षिदेव कुमार द्वारा 356 वादों का निस्तारण किया गया। कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी रवीश गुप्ता सहित समस्त पीठासीन अधिकारियों द्वारा अपने-अपने न्यायालय से वाद निस्तारित किये गये।

केमास न्यूज़ सुल्तानपुर