मछली पकड़ने का विरोध करने के कारण मत्स्य पालक को पीट पीटकर किया घायल

0
86

सुल्तानपुर 19अक्टू/अखंड नगर थाने के अंतर्गत नरवारी गांव में एक घर के कई लोगों ने मिलकर उसी गांव के एक मत्स्य पालक को पीट-पीटकर घायल कर दिया।
घटना 19 अक्टूबर सुबह लगभग 10:00 बजे के करीब की है जब वीरेंद्र निषाद पुत्र गयादीन निषाद अपने मत्स्य पालक तालाब से घर की तरफ लौट रहा था कि सुखई पुत्र बलिराम निषाद, राजेंद्र रामजनम , दिनेश पुत्र गण सुखई निषाद ने रास्ते में वीरेंद्र को घेर लियाऔर भद्दी गालियां देने लगे और लाठी डंडों तथा लातों घूसों से मारने लगे। जिससे विरेंद्र को काफी चोटें आईं हैं। विरेंद्र ने अखंड नगर थाने में लिखित तहरीर दिया है। थानेदार ने तहरीर स्वीकार कर के वीरेंद्र को मेडिकल परीक्षण के लिए अखंड नगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भेज दिया। जहां से डाक्टरों ने उसे जिला अस्पताल सुल्तानपुर भेज दिया।
थानेदार ने बताया कि रिपोर्ट के मुताबिक धारा लगा कर कार्यवाही की जायेगी।
पीड़ित ब्यक्ति ने बताया कि हमारे पिता स्व0गयादीन के द्वारा तालाब गाटा संख्या 272 को दस साल के लिए दिनांक1-7-2014से 30-6-2024 तक के लिए मत्स्य पालन हेतु पट्टे पर लिया गया है । जिसमें हमने मछली पालन किया है। दिनांक 18-10-2021को सायं चार बजे के करीब रामजनम पुत्र सुखई उक्त तालाब में फासला लगा कर मछली पकड़ रहे थे। हमारे मना करने पर हमको भद्दी गालियां देने लगे और दूसरे दिन 19-10-2021को उक्त लोगों ने हमें मारा पीटा और गालियां दिया।
हम उक्त तालाब गाटा संख्या 272 का सरकारी लगान 3500/पैंतीस सौ रुपए प्रति वर्ष जमा करते हैं । जिसमें हमने मछली पाल रखी है। यही हमारे आजीविका का साधन है।

के मास न्यूज़ सुल्तानपुर