जिलाधिकारी ने किया ऋण वितरण मेले का शुभारम्भ बैंकों के सहयोग से आजमगढ़ बिजनेश का हब बन सकता है- जिलाधिकारी

0
61

आजमगढ़ 27 अक्टूबर– जिलाधिकारी राजेश कुमार ने कहा कि व्यावसायिक गतिविधियों को प्रोत्साहित करने एवं युवाओं, किसानों एवं महिलाओं को बिजनेश/व्यापार से जोड़ने के लिए अधिक से अधिक बैंकों द्वारा लोन (ऋण) का वितरण किया जाए। उन्होने कहा कि इससे जनपद के इकोनॉमिक गतिविधियों में वृद्धि होगी। उन्होने कहा कि कृषि, पशुपालन, मत्स्य पालन तथा अन्य प्रकार के व्यवसायों के लिए प्रचार-प्रसार कर लोगों को ऋण लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाये।
जिलाधिकारी राजेश कुमार ने आज नेहरू हाल के सभागार में यूनियन बैंक द्वारा आयोजित ऋण वितरण मेला का शुभारम्भ करते हुए कहा कि जनपद आजमगढ़ पूरे पूर्वांचल का केन्द्र हैं। यहॉ से पूर्वांचल के सभी जनपदों की अच्छी कनेक्टिविटी है। उन्होने कहा कि शीघ्र ही पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के प्रारम्भ हो जाने से बनारस एवं गोरखपुर के साथ ही अन्य जनपदों से भी व्यवसाय के लिए जनपद में आवागमन हो जायेगा। उन्होने कहा कि अच्छे संसाधन एवं बेहतर आवागमन से जुड़ने तथा बैंकों के सहयोग से आजमगढ़ बिजनेश का हब बन सकता है।
जिलाधिकारी ने बैंकों से कहा कि सरकार द्वारा निर्धारित लोन (ऋण) के लक्ष्य को समय से पूर्ण करें। उन्होने कहा कि सरकारी स्कीमों में दिये गये लोन के प्रत्यावेदन को समय से निस्तारित करें। उन्होने कहा कि पात्र व्यक्तियों को अधिक से अधिक लोन देकर व्यापार के लिए प्रोत्साहित करें।
जिलाधिकारी ने इस अवसर पर पीएन इंटरप्राइजेज, एके हैचरी, विनायक गिफ्ट सेंटर, महेन्द्र गुप्ता, मो0 रेहान, उमेश यादव, दीपक चौहान, किश्मतुन निशा, कमल मोदनवाल, दुर्गा महिला स्वयं सहायता समूह, उमा शक्ति महिला, आदित्य बर्तन स्टोर तथा मनोज कुमार पाण्डेय आदि लोगों को लोन पत्र प्रदान किया।
जिलाधिकारी ने मीडिया प्रतिनिधियों से भी अपील किया कि उक्त ऋण वितरण मेले का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करें, जिससे कि अधिक से अधिक लोग इस ऋण वितरण मेले का लाभ प्राप्त कर सकें।
इससे पूर्व जिलाधिकारी ने ऋण मेला का शुभारम्भ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।
इस अवसर पर यूनियन बैंक के क्षेत्र प्रमुख उपस्थित रहे