फरिहा आजमगढ निजामाबाद तहसील अंतर्गत फरिहा क्षेत्र के शारदा सहायक खंड 32 नहर का तट बन्ध तूट जाने से  सैकड़ो एकड़ की फसल जल मग्न हो जाती हैं

0
86

फरिहा क्षेत्र के शारदा सहायक खंड  32 नहर का तट बन्ध तूट जाने से सैकड़ो एकड़ की फसल डूब जाती हैं किसान लालमनी  ने बताया की सिंचाई विभाग की घोर लापरवाही की वजह से नहर का तट बन्ध तूट जाता है और किसानो की फसल हर साल बर्बाद होती रहती है किसानो ने  सिंचाई विभाग  के जेई आलोक गुप्ता   को फोन से शिकायत किया कि नहर मे एक भी  कुलाबा  (सैफन )नही लगा है कुलाबा न होने के कारण नहर की कटान बार बार होती रहती है किसान लालमनी  ने यह भी कहा कि सिंचाई  विभाग को फोन से शिकायत करने के बाद जब कुलाबा नही लगा तो हमने  जून के महीने मे रजिस्ट्री के माध्यम से सिंचाई विभाग को  कुलाबा लगाने के लिए प्रार्थना पत्र भेजा  था विभाग के जेई आलोक गुप्ता  ने प्रार्थना पत्र को रिसीव भी किया था और हमसे फोन से बात हुई  और कहे कि तीन से चार दिन मे कुलाबा लग जायेगा लेकिन  अब तक  कुलाबा नही लगा उसका परिणाम यह रहा कि नहर तट बन्ध दूर गांव के लोगो द्वारा   तोड़ा गया  और बार बार नहर की कटान होती रहती है और किसानो काफी नुकसान होता रहता है    लेकिन नहर विभाग के लापरवाही की वजह से कुलाबा नही लगा नतीजा रहा  की नहर के ज्यादा  पानी से  किसानो की की फसल बर्बाद होती रहती हैं। हम नहर विभाग अधिकारियों से मांग कर रहे हैं कि यहां पर बुलावा लगवा दिया जाए जिससे किसानों को राहत मिल सके