शहीद सुरेश राजभर की याद में स्मृति द्वार बनाने का किया वादा

0
169

 

वाजिदपुर/गाजीपुर जिला के मनिहारी ब्लॉक अंतर्गत वाजिदपुर गांव में शहीद सुरेश राजभर की याद में हंसराजपुर से जयरामपुर को जाने वाली रोड पर बीबीपुर गांव के पास स्मृति द्वार बनाने का सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने किया वादा। शहीद सुरेश राजभर के घर ग्राम-पो0- वाजिदपुर, थाना – विरनो, तहसील – जखनियां में आज सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पहुंचे और उन्होंने सबसे पहले शहीद की फोटो पर पुष्प अर्पित किया। इसके बाद वहां मौजूद सभी लोगों के साथ 2 मिनट के लिए मौन रह करके शहीद की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना किया। इसके बाद शहीद के परिवार उनकी पत्नी, बच्चा, बच्चियों, एवं भाई से मुलाकात कर सभी को सांत्वना दी। तदोपरांत उन्होंने शहीद की याद में मेन रोड से गांव के लिए आने वाले रास्ते पर स्मृति गेट बनाने के लिए घोषणा किया। आपको बताते चलें की शहीद के पिता द्वारिका राजभर भी सैनिक थे। उनकी माता का नाम राधिका देवी हैं। वे अपने पीछे अपनी पत्नी रीता देवी 40 वर्ष पुत्र सौरभ भारद्वाज 18 वर्ष एवं चार पुत्रियां राखी 20 वर्ष नेहा 15 वर्ष जिसमें से सुमन और सुषमा की शादी हो चुकी है। शहीद सुरेश राजभर ने सीआरपीएफ में 1998 में ज्वाइन किया और वर्तमान समय में जम्मू में तैनात थे जहां उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कहा। ये दो भाई थे, इनके छोटे भाई योगेश भारद्वाज गुजरात में आर्मी फोर्स में कार्यरत हैं। एक तरह से देखा जाए तो इनका पूरा परिवार देश की हिफाज़त के लिए नेवछावर है। जब उनके पुत्र से पूछा गया कि आप क्या बनना चाहेंगे तो उसने भी सैनिक बनने की इच्छा जाहिर की। यहां के ग्राम प्रधान काशीनाथ राजभर ने शहीद के नाम पर गांव की खाली जगह पर पार्क बनवाने का आश्वासन दिया जिसमें जखनियां विधानसभा के विधायक बेदी राम ने भी अपने तरफ से हर संभव सहयोग देने की बात कही। इस मौके पर ओमप्रकाश राजभर, बेदी राम, लल्लन राजभर, पंकज दुबे, काशीनाथ राजभर, सुरेश राजभर, राजेंद्र राम आदि के साथ गांव के लोग काफी संख्या में उपस्थित थे।

जय प्रकाश चंद्रा,
सब ब्यूरो चीफ, गाजीपुर