शहीद सुरेश राजभर का पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचा

0
197

 

वाजिदपुर (गाजीपुर)/ गाजीपुर जिला के मनिहारी ब्लॉक अंतर्गत बाजिदपुर गांव में आज शहीद सुरेश राजभर का पार्थिव शरीर का गांव पहुंचा। प्राप्त जानकारी के अनुसार सुरेश राजभर S/O द्वारिका राजभर, 38 बटालियन सीआरपीएफ जम्मू में ड्यूटी पर थे वही अचानक उनकी तबीयत खराब होने की वजह से शहिद हो गए। अपने पीछे पत्नी रीता देवी के साथ चार बेटियां एवं एक बेटे को छोड़ गए हैं। बेटा भाई बहनों में तीसरे नंबर पर है और इस समय उसकी उम्र लगभग 19 वर्ष है। जैसे ही उनका पार्थिव शरीर वाजिदपुर गांव में पहुंचा पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी और उनके पार्थिव शरीर को देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। उन की शव यात्रा में उनके सम्मान में सीआर पी एफ की टीम के साथ विरनो थाने के एस ओ एवं पुलिस के जवान के साथ-साथ गांव के सभी लोग तथा आस-पास के गांव के लोग भी मौजूद थे। सभी लोग भारत माता की जय सही सुरेश राजभर अमर रहे वीरों की धरती गाजीपुर के नारे लगाते हुए सौर यात्रा के साथ साथ आगे बढ़ रहे थे और उनके पार्थिव शरीर को गाजीपुर घाट पर अंतिम क्रिया कर्म किया गया।

शशिकांत राजभर,
पत्रकार – मनिहारी,
गाजीपुर