जल्दी बंद हो सकती है,घरेलू उड़ाने कुछ कम्पनी ने खड़े किए विमान

0
59

मुंबई :

कोरोना वायरस आउटब्रेट (Coronavirus Outbreak) के बाद देशभर के 80 जिलों में लॉकडाउन कर दिया गया है. सभी गैर-जरूरी सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है. अब घरेलू रूटों पर चलने वाली विमान कंपनियां भी फ्लाइट्स बंद करने लगी हैं. 19 मार्च को ही सरकार ने सभी विमान कंपनियों को निर्देश जारी किया था कि 22 मार्च से कोई भी इंटरनेशनल फ्लाइट्स भारत से उड़ान नहीं भरेगी.

कई विदेशी कंपनियों ने भी बंद की सेवा

दुनिया की कई प्रमुख विमान कंपनियों ने कहा कि वो फ्लाइट्स की संख्या में बड़ी कटौती करेंगी. इनमें डेल्टा, अमेरिकन एयरलाइंस भी शामिल हैं. सिंगापुर एयरलाइंस ने कहा है कि वो अपनी क्षमता में 96 फीसदी तक कटौती करेगी. ​एमिरेट्स ने कहा है कि 25 मार्च से अपनी पूरी सेवाओं को बंद कर देगी. कुछ विमान कंपनियों ने पहले से ही अपने संचालन को बंद कर दिया है.

भारत में अब तक 40 फीसदी विमानों का संचालन बंद

भारत में Vistara Airlines ने कहा कि वो अपने क्षमत को कम कर रही है. इंडिगो ने 23 मार्च से अपने घरेलू क्षमता में 25 फीसदी तक कटौती करने का ऐलान किया है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में अब तक घरेलू रूट्स पर 40 फीसदी विमानें खड़ी कर दी गई हैं. इनमें एअर इंडिया ने अपनी दो तिहाई क्षमता को कम किया है, जिसमें कुल 80 एयरक्रॉफ्ट्स हैं. GoAir ने 60 फीसदी​ विमानों को खड़ा कर दिया है. इस विमान कंपनी के बेड़े में कुल 54 एयरक्रॉफ्ट्स हैं, जिनमें 30 एयरक्राफ्ट ग्राउंडेड हैं. विस्तारा ने अपने 41 में से 20 एयरक्राफ्ट को ग्राउंड कर दिया है.हालांकि, इंडिगो और एयर एशिया अभी भी बड़ी संख्या में फ्लाइट्स ऑपरेट कर रही हैं. इंडिगो ने अभी तक केवल 80 एयरक्राफ्ट को संचालन बंद किया है जोकि उसकी कुछ फ्लीट की केवल 30 फीसदी क्षमता ही है. वहीं, एयर​एशिया ने 20 फीसदी विमानों को ग्राउंड किया है. स्पाइसजेट की बात करें तो इस कंपनी ने भी अपने 40 फीसदी एयरक्राफ्ट्स का संचालन बंद कर दिया है.