रामवृक्ष हत्याकाण्ड का हुआ पर्दाफाश:भाई ही निकला कातिल

0
166

**भतीजी का प्रेमप्रपंच बना मौत का कारण

जौनपुर /खेतासराय :- स्थानीय थाना क्षेत्र के पोरईखुर्द गांव में चार माह पूर्व एक अधेड़ की बर्निंग कर हत्या किये के प्रकरण का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।सोमवार की सुबह रामबृक्ष हत्याकांड के आरोपित भाई और प्रेमी को खेतासराय स्टेशन से धरदबोचा।दोनो को गिरफ्तार कर चालान न्यायालय भेज दिया।हत्याकांड का खुलासा होने पर पुलिस प्रशासन ने राहत की सांस ली।
पुलिस उपाधीक्षक शाहगंज अजय कुमार श्रीवास्तव ने मीडियाकर्मियों के सामने रामवृक्ष हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि पोरईकला निवासी रामवृक्ष चौरसिया 48 पुत्र भगवान दास की बीते जून माह में हत्या कर सुबूत मिटाने के लिए लाश को पानी की खाली टैंक में मिट्टी के तेल से बर्निंग कर दी।पुलिस की काफ़ी तहकीकात के बाद पता चला कि मृतक का भाई रामचेत चौरसिया की बेटी दीपा पोरईखुर्द स्तिथ सीवान में ट्यूबल पर झाड़फूंक कराने उक्त गांव निवासी ओझा जैतू राजभर पुत्र सोहन राजभर से प्रायः मिलने जाती थी।जिस से उक्त ओझा का प्रेमप्रपंच चलने लगा।मृतक ने ओझा और भतीजी की शिकायत घर मे कर दी।जिस से घर मे कलः होने लगी।भाई रामचेत और ओझा ने रास्ते से हटाने के लिए हत्या कर लाश को जला दिया।थानाध्यक्ष विजय प्रताप सिंह ने बताया कि इस हत्याकांड में अभी भी कई गुनहगार पुलिस के शिकंजे में आयेंगे।दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर चालान न्यायालय भेज दिया।गिरफ्तार करने वाली टीम में थानाध्यक्ष विजय प्रताप सिंह, सुरेश सिंह, कानिस्टबल वीरेंद्र यादव,प्रेमचन्द्र,रामविलास, कुमारी शब्या महिला पुलिस शामिल रही।