नाबलिग 3 बहनों ने ग़रीबी से लचार होकर ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

0
143

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में तीन बहनों ने जनसाधारण एक्सप्रेस (Jan Sadharan Express) ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी. तीनों के उनके शव रेलवे ट्रैक के पास मिले. बताया जा रहा है कि तीनों बहनें गरीबी से परेशान थीं. इसलिए तीनों ने इतना बड़ा कदम उठा लिया.पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने कहा कि पीड़ितों की पहचान अहिरोली गांव के दिवंगत राजेंद्र प्रसाद गौतम की बेटियों प्रीति (16), काजल (14) और आरती (11) के रूप में हुई है. उनके पिता की नौ साल पहले मृत्यु हो गई थी और उनकी मां नेत्रहीन है. अब एक छोटा भाई बचा है, जो नाबालिग है.कुमार ने कहा कि तीनों बहनें अपने भाई गणेश के साथ मिलकर घर चलाने के लिए काम करती थीं. पुलिस को संदेह है कि गरीबी ने भाई-बहनों को इतना बड़ा कदम उठाने के लिए प्रेरित किया होगा. तीनों बहनें गुरुवार शाम से अपने घर से लापता थीं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनके शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.