नगर पालिका परिषद अध्यक्ष सरिता गुप्ता व आर. आई. विपिन कुमार रावत द्वारा रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

0
104

अंबेडकर नगर।

31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह 11 जनवरी से 17 जनवरी तक मनाया जा रहा है, जिसके क्रम में पहले दिन शनिवार को एआरटीओ कार्यालय से आरकेवीके एजेन्सी तक स्कूटी/मोटर साइकिल यातायात रैली निकाली गई। श्रीमती सरिता गुप्ता अध्यक्ष नगर पालिका परिषद अकबरपुर एवं आर .आई .विपिन कुमार रावत द्वारा सड़क सुरक्षा सप्ताह मे रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। जागरूकता के लिए उचित माध्यम से जिले के विभिन्न स्थानों पर आमलोगों के बीच सड़क सुरक्षा के संबंध में जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाएगा। सड़क सुरक्षा जागरूकता प्रचार-प्रसार के उचित माध्यम से साप्ताहिक बाजार व विभिन्न इलाकों में ग्रामीणों को यातायात के नियमों का अनुपालन करने के प्रति जागरूक किया जाएगा। साथ ही ट्रैफिक के नियमों से अवगत कराया जाएगा. सड़क सुरक्षा व नए मोटर वाहन अधिनियम 2019 के संबंध में प्रचार-प्रसार किया जाएगा।
सभी पेट्रोल पंप में ‘‘नो हेलमेट नो फ्यूल‘ अभियान का आयोजन के प्रति लोगों को अवगत कराया जाएगा. इस माध्यम से बताया जाएगा कि दुपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट पहनने के फायदे से अवगत कराते हुए वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग व कार चलाते समय सीट बेल्ट का उपयोग करने के प्रति सजग कर लोगों को जागरूक करना कि नशा का सेवन कर वाहन नहीं चलाना चाहिए।
साथ ही गाड़ी चलाने के दौरान मोबाइल फोन अथवा दूसरे इलेक्ट्राॅनिक उपकरणों के इस्तेमाल के कारण ध्यान हटने से सड़क दुर्घटना का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए वाहन चलाते समय उक्त उपकरणों का उपयोग नहीं करना चाहिए. जागरूकता वाहन लोगों को सड़क सुरक्षा के लिए प्रेरित करने की दिशा में पम्पलेट के माध्यम से संदेश प्रेषित करने में सहायक है। पम्पलेट के माध्यम से बताया जाएगा कि वाहन सदैव निर्धारित गति सीमा में ही चलाना चाहिए एवं जल्दबाजी में वाहनों को ओवर टेक करने की कोशिश नहीं करें। इस माध्यम से लोग सड़क सुरक्षा के प्रति गंभीर दृष्टिकोण अपना सकते हैं।जिले में 11 जनवरी से 17 जनवरी तक 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाएगा।
ए आर टी ओ केएन सिंह के निर्देश के आलोक में सात दिवसीय राष्ट्रीय सड़क़ सुरक्षा सप्ताह के तहत ‘‘सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा‘‘ थीम के साथ जिले में अलग-अलग जगहों पर विविध जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किये जाएगें।पूरे जिले में बिना हेलमेट/बिना सीटबेल्ट के वाहन चलाने वाले चालकों के खिलाफ सघन जांच अभियान चलाये जा रहा है।