रेलवे के आला अधिकारियों की लापरवाही व अनदेखी से कभी भी रेलवे स्टेशन के बगल जलालपुर मार्ग पर बने फाटक पर हो सकता है बड़ा हादसा

0
187

अंबेडकरनगर
गोविंद साहब और किछौछा दरगाह के द्वारा अपनी अलग पहचान पहचान रखने वाला अकबरपुर जंक्शन के नाम से मसहूर अकबरपुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी छोर पर जलालपुर मार्ग पर बना फाटक आग के मुहाने पर है। यह सुनने में भले ही चौंकाने वाला हो लेकिन सत्यता से पूरी तरह इंकार नहीं किया जा सकता रेलवे के आला अधिकारियों की लापरवाही व अनदेखी से कभी भी रेलवे स्टेशन के बगल जलालपुर मार्ग पर बने फाटक पर एक बड़ा हादसा हो सकता है विडंबना तो यह है कि कई बार अधिकारियों को सूचित करने के पश्चात भी इसको नजरअंदाज किया जा रहा है गेट के दोनों तरफ सूखे पौधे दुर्घटना का सबब बना हुआ है या फिर विगत 2 वर्षों से पूर्ण रूप से सूख चुका है तथा पेड़ को अंदर अंदर ही दीमक ने खोखला बना दिया कभी भी घटना घटित होते देर नहीं लगेगी इसके साथ ही साथ गेट के बगल ही सड़क के मध्य विशालकाय गड्ढा होने से कभी भी घटना घट सकती है परंतु रेलवे प्रशासन की उदासीनता के कारण यह कार्य हो पाना असंभव दिखाई पड़ा है गेट नंबर एलसी 81c जलालपुर मार्ग पर स्थित है इस मार्ग से 24 घंटे वाहनों का आना जाना लगा रहता है परंतु इसके पश्चात भी प्रशासन द्वारा इस बिंदु को संज्ञान में नहीं लिया जा रहा है क्या घटना घटने के पश्चात ही रेलवे प्रशासन इस पर नजर डालेगी। इसके बाद भी रेल अधिकारी ने कभी सुध लेने की जहमत तक नहीं उठाई। स्टेशन अधीक्षक अकबरपुर द्वारा बताया गया कि विभाग से चिट्ठी भेजी जा चुकी है परंतु विभाग द्वारा एक लंबा समय बीत जाने के पश्चात भी अभी तक कार्यवाही नहीं की गई।