फरिहा बाजार में गंदगी से गंभीर बीमारीयों का खतरा

0
279

आजमगढ निज़ामाबाद तहसील क्षेत्र के अंतर्गत फरिहा बाजार में जलजमाव और कीचड़ की समस्या से आम जनता जूझ रही है लेकिन इस पर आज तक कोई ठोस योजना या कार्य न होने के कारण कभी थोड़ी सी बरसात हो या कई दिनों की बरसात हो बात बराबर हो जाती है जबकि चौराहे पर ही शिव मंदिर है वहां भी लोगों का प्रतिदिन आना जाना लगा रहता है जिससे लोगों को परेशानी होती है जलजमाव महीनों तक बना रहता है जिसके कारण दुकानदारों के दुकानों में सड़क का गंदा पानी और कीचड़ चला जाता है जिसके कारण उनके दुकान का सामान या खाने पीने वाली सामान खराब हो जाती है आने जाने वाले लोगों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है कई बार लोग इसी कीचड़ में गिर कर अपनी योजनाएं रद्द कर के घर वापसी कर लेते हैं सुगमता सुलभता की बात तो छोड़ दीजिए बच्चों को विशेष परेशानी होती है फरिहा में ही दर्जनों स्कूल है उसी रास्ते से करीब हजारों बच्चे अपने अपने स्कूलों का आना जाना होता है लेकिन वह भी इन्हीं कीचड़ और पानी के रास्ते से गुजरना पड़ता है इस संबंध में बाजार वासियों ने कई बार जिला अधिकारी को लिखित प्रार्थना पत्र और मौखिक रूप से भी सूचित किया लेकिन आज तक योजना छोड़ दीजिए कभी भी कोई भी जिले तहसील का अधिकारी कर्मचारी देखने तक नहीं आया जबकि सभी तहसील और ब्लॉक के अधिकारी और कर्मचारियों का आना जाना उसी रास्ते से लगा रहता है दुर्गा पूजा समिति के सदस्य में गंदगी को लेकर आक्रोश है