गोवर्धन पर्व के चलते जगह-जगह पर भंडारे का आयोजन

0
63

आज के दिन कृष्ण भगवान की पूजा की जाती है।आज के दिन सभी लोग अपने घरों में कृष्ण भगवान की पूजा करते हैं गोबर से कृष्ण भगवान की आकृति बनाई जाती है। आज के दिन गोबर और गाय माता को पूजा जाता है। इस दिन जगह-जगह पर भंडारे का आयोजन किया गया है। ऐसा कहा जाता है कि इंद्र भगवान का घमंड तोड़ने के लिए कृष्ण भगवान ने अपनी छोटी उंगली पर गोवर्धन पर्वत को अपनी उंगली पर उठा लिया था, इसलिए आज के दिन को गोवर्धन पर्व के रूप में मनाया जाता है। आज के दिन औरतें गोबर लाकर अपने घरों में गोबर से कृष्ण भगवान की आकृति बनाते हैं और उनकी पूजा की जाती है। गोकुल में आज का दिन उत्साह के साथ मनाया जाता है। कृष्ण भगवान को आज के दिन याद किया जाता है और उनसे अपनी मनोकामना मांगी जाती है ।आज के दिन बहुत से लोग मथुरा, वृंदावन में जाकर अपनी मनोकामना पूर्ण करने के लिए गोवर्धन भगवान की परिक्रमा भी लगाते हैं। जैसे कि आप फोटो में देख सकते हैं कि किसी ने भी मास्क का प्रयोग नहीं किया है। करोना का किसी को भी कोई डर नहीं है। अब कोई भी मास्क का प्रयोग नहीं कर रहा है।इसी कारण करोना के केस ज्यादातर बढ़ते जा रहे हैं
रिपोर्टेड
रागिनी शर्मा