पत्रकार के साथ कि गयी अभद्रता, आरोपियों से मिलीभगत कर पुलिस ने संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर भेजा जेल

0
110

मार्टीनगंज/ आज़मगढ़:- एक तरफ जहाँ प्रदेश के मुख्यमंत्री व देश के प्रधानमंत्री जी पत्रकारों के साथ हो रही अभद्रता व उनपर हो रहे उत्पीड़न को लेकर सख्त कानून बना रही है जहाँ प्रदेश के शासन प्रसासन पत्रकारों की मदद को लेकर प्रतिदिन एडवायजरी जारी करती हैं वहीं आजमगढ़ जिले के फूलपुर सी ओ रविशंकर प्रसाद व कोतवाल शिवशंकर सिंह ने मुख्यमंत्री जी के मन्सा पर पानी फेर रही है बताते चले कल 06सितम्बर को सुबह लगभग 8 बजे प्राथमिक विद्यालय फूलपुर (उदपुर) में अध्यापकों द्वारा बच्चों से झाड़ू लगवाया जा रहा था तभी पत्रकार सन्तोष जयसवाल ने जाकर बच्चों की फोटो निकालने लगे तभी अध्यापक राधेश्याम यादव,जिरुलहक व सन्तोष यादव ने कुछ दबंग लोगों के साथ जाकर पत्रकार सन्तोष जयसवाल से अभद्रता करने लगे और मारने के लिए दौड़ा लिए जिसपर सन्तोष जयसवाल ने डायल 100 पर फोन कर पुलिस को सूचना दी जहाँ पुलिस ने घटना को संज्ञान मे लेते हुए कहा की आप थाने चल कर कोतवाल साहब से कहिये वही जब पत्रकार सन्तोष जयसवाल थाने पहुँचे तो तबतक पुलिस व सीओ ने अध्यापकों से साथ गाँठ कर आनन फानन में उल्टा संगीन धराओं में पत्रकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिए।

वहीं पत्रकार के संग अभद्रता करने व फर्जी मुकदमा लिख जेल भेजने की घटना भारतीय पत्रकार संगठन के संरक्षक बृजेश सिंह को हुई तो और इस प्रकार पत्रकारों के साथ पुलिस की इस नापाक हरकत पर नाराजगी जाहिर की और क्षेत्र के सभी पत्रकारों संग तहसील फूलपुर पहुँच कर उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा और उच्चधिकारियों द्वारा सम्पूर्ण धटना की निष्पक्ष जांच कराने व दोषियों पर उचित कार्यवाही करने की मांग की वहीं उपजिलाधिकारी श्री बागेश शुक्ला जी ने अस्वासन दिए कि घटना की निष्पक्षता से जाँच कर दोषियों पर कार्यवाही होगी चाहे हो विद्यालय के अध्यापक हो या सीओ व कोतवाल ।