RBI के तरफ़ से PMC bank के लिए ज़रूरी सूचना,आप भी है खाताधारक

0
146

मुंबई :रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने शुक्रवार को कहा कि तीन निवेशकों ने संकटग्रस्त पंजाब एवं महाराष्ट्र सहकारी (PMC Bank) बैंक की पुनर्संरचना के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत किये हैं. दास ने कहा कि इन प्रस्तावों का मूल्यांकन चल रहा है.PMC Bank के प्रशासक एके दीक्षित ने पिछले महीने बताया था कि तीन संभावित निवेशकों को उनके अंतिम प्रस्ताव प्रस्तुत करने के लिये एक फरवरी 2021 तक का समय दिया गया है. RBI गवर्नर ने मौद्रिक नीति की घोषणा के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे सूचित किया गया है कि तीन अंतिम प्रस्ताव मिले हैं. मुझे यह बताया गया है कि पीएमसी बैंक (PMC Bank Update) स्वयं इन प्रस्तावों का मूल्यांकन कर रहा है.’ उन्होंने कहा कि मूल्यांकन के बाद PMC बैंक आरबीआई से संपर्क करेगा. रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति घोषणा की मुख्य बातें
आरबीआई इससे पहले शुक्रवार को मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के निष्कर्षों की घोषणा की. इसमें रिजर्व बैंक ने मुख नीतिगत दर रेपो को चार प्रतिशत पर बनाये रखने तथा मौद्रिक रुख को उदार बनाये रखने का फैसला किया. बैठक के निष्कर्षों की घोषणा की मुख्य बातें इस प्रकार हैं।

नीतिगत ब्याज दरें लगातार चौथी बार भी अपरिवर्तित रहीं.
-रिजर्व बैंक के फौरी उधार की ब्याज दर (रेपो) चार प्रतिशत पर बरकार.
– रिजर्व बैंक उदार नीतिगत रुख बनाये रखेगा.
-आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहना, भारतीय अर्थव्यवस्था की गति अब सिर्फ ऊपर की ओर.
-रिजर्व बैंक ने 2021-22 में जीडीपी वृद्धि दर 10.5 प्रतिशत रहने का अनुमान व्यक्त किया.
-रिजर्व बैंक ने खुदरा मुद्रास्फीति के अनुमान को संशोधित किया.