कोरोना पाज़िटिव युवक की उपचार के दौरान मौत

0
119

आज़मगढ़ कोरोना पाज़िटिव युवक की उपचार के दौरान मौत की खबर सुनते परसहा गांव मे हड़कम्प सा मच गया लेकिन फरिहा चौकी इंचार्ज रत्नेश दूबे के कानो पर जूं तक नही रेगा निजामाबाद थाना क्षेत्र के परसहा निकामुददीन पुर गांव निवासी चन्द्र शेखर 32 वर्षीय पुत्र हरिलाल युवक की कोरोना से मौत हो गयी मिली जानकारी के अनुसार युवक की तबीयत दो सप्ताह पूर्व खराब हुईथी , जिसका इलाज स्थानीय बाजार सहित जिले के प्राइवेट अस्पताल तक हुआ लेकिन हालत बिगड़ती देख डॉक्टरों ने बीएचयू के लिए रेफर कर दिया एक सप्ताह से बीएचयू में इलाज चल रहा था इसी दौरान कोरोना की जांच हुई और पुष्टि हुई कि मरीज कोरोना पॉजिटिव है यह खबर सुनते ही घर वालों सहित क्षेत्र में हड़कंप मच गया युवक के साथ गए उसकी पत्नी और उसके भतीजे की भी जांच सैम्पलिंग बीएचयू में ही कराई गई थी मृतक मछली का कारोबार के लिए अक्सर बिहार आता जाता रहता था इसके साथ साथ आम की बाग किराये पर लेकर उसकी रखवाली का कार्य करता था पॉजिटिव की खबर मिलते ही एसडीएम निज़ामाबाद अरविंद कुमार सिंह ने गांव को कंटेंटमेंट जोन घोषित करके गांव को बाँस बल्ली से सील करवा दिया था लेकिन आज मंगलवार की सुबह गांववालों को सूचना मिली कि युवक की मौत हो गयी। मृतक तीन भाइयों में सबसे छोटा था मृतक के पास अभी बच्चे नहीं थे।गांव वालो ने बताया कि कंटेंटमेंट जोन घोषित होने के बाद भी फरिहा चौकी इंचार्ज रत्नेश दूबे ने वहा पर कभी गये ही नही और न ही किसी पुलिस की ड्यूटी ही लगायी गयी थी सिर्फ बांस बल्ली लगा कर लोग किनारा खीच लिये मृतक के आस पास के लोग इधर-उधर घूमने मे तनिक भी हिचक नही रखते थे फरिहा चौकी के सिपाही कभी जाते थे या फिर नही कोई पूछने वाला नही था गांव के लोगो ने बाताया कि पुलिस कभी यहा ड्यूटी ही नही करती थी और लोग कंटेंटमेंट जोन तोड़कर इधर उधर घूमते थे लेकिन युवक के मृत्यु के लोग दहशत मे है ।