गुजरात में नौकरी करने गये युवक ने लगाई फाँसी

0
50

जलालपुर/क्षेत्र के हरीपुर पाली गाँव निवासी संदीप निषाद उम्र 19 वर्ष पुत्र अजय निषाद ने फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली । उसका शव घर आते ही कोहराम मच गया । क्योंकि वह अपने माता पिता का इकलौता पुत्र था ।
बताते है कि संदीप लगभग 17 माह पहले गाँव के ही पंकज निषाद के साथ गुजरात सूरत काम करने के लिए गया था । पंकज उसे काम सीखने के लिए गैरेज में लगा दिया था । लेकिन 24 सितंबर को संदीप ने पंखे से लटककर अपनी इहलीला समाप्त कर लिया । सूचना पर स्थानीय थाने की पुलिस जाकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करायी । और 25 सितम्बर की शाम को पोस्टमार्टम के बाद पंकज आदि ने शव को लेकर एम्बुलेंस द्वारा घर लेकर आए लेकिन पंकज को डर था कि कहीं संदीप के परिजन हमें मारने न लगे । इसी डर से पंकज ने पराऊगंज चौकी पर घटना की पूरी जानकारी देते हुए सुरक्षा की माँग किया । और गाँव के लोगों को सूचना देकर हरीपुर के बीएसपी चौराहे पर बुलाकर वही शव को उतारकर पुलिस चौकी पर चला गया । परिजनों का आरोप है कि पंकज ने ही मेरे पुत्र को मार डाला है । और शव को चौराहे पर उतारकर भाग गया । जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या जैसी कोई बात नहीं है । थानाध्यक्ष ओमनारायण सिंह ने परिजनों को समझा बुझाकर शव के अन्तिम संस्कार करने के लिए तैयार किया । और थानाध्यक्ष ने पंकज निषाद से मृतक परिवार के सहयोग करने की बात किए तो उसने अपनी स्वेच्छा से एक लाख नगदी दिया जिससे संदीप का अंतिम संस्कार किया जा सके । और पूर्व प्रधान तथा वर्तमान प्रधान पति के अलावा समस्त ग्रामवासियों के समक्ष पंकज के चाचा के घर अरविन्द ने संदीप के बहन की शादी का पूरा खर्च देने का भी वादा किया है । जिससे गरीब परिवार को कोई कठिनाइयों का सामना न करना पड़े ।
राजेश कुमार गुप्ता रिपोर्ट