नौगढ़ तहसील क्षेत्र के नवगढ़ कस्बा में कम्युनिस्ट पार्टी के द्वारा जनजाति का दर्जा पाने के लिए निकाली गई रैली

0
222

चंदौली जनपद के नौगढ़ तहसील क्षेत्र मेंआज दिनांक 28 अक्टूबर 2021 को अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा के कार्यकर्ताओं द्वारा चंदौली जनपद के नौगढ़ तहसील क्षेत्र के कस्बा नौगढ़ में जुलूस निकाला गया।

कार्यकर्ताओं का कहना यह है कि नौगढ़ में निवास करने वाले आदिवासी, पासवान, गोंड व पनिका के जाति प्रमाण- पत्र बनने हेतु तहसील मुख्यालय पर अपनी मांग- पत्र दिए थे किंतु 1 महीने से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी तहसील प्रशासन की तरफ से कोई कार्यवाही नहीं होने पर अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा के कार्यकर्ताओं ने नौगढ़ कस्बा में मार्च कर उप जिलाधिकारी कार्यालय तक जुलूस निकाला तथा ज्ञापन सौंपा। मार्च का नेतृत्व कर रहे भाकपा (माले) नेता अनिल पासवान ने कहा कि गोंड, पनिका, चेरो खरवार, सहित तमाम आदिवासी जातियों को सोनभद्र में आदिवासी का दर्जा मिला है तो नौगढ़ में क्यों नहीं?चुनाव लड़ने के लिए गोंड व पनिका जाति के लोगों का जाति प्रमाण पत्र बन सकता है तो हमेशा के लिए क्यों नहीं?
खेग्रामस राज्य सह सचिव ने कहा कि नौगढ़ तहसील क्षेत्र के लहुराडीह, मझगावा, सुर्रा, जयमोहनी, विशेषरपुर, परसिया, बरवाडीह, परसहवां, लक्ष्मणपुर, बजरडीहा, पड़हवा, केसार, धनकुवारी, पड़रिया, गहिला, जमसोत, शाहपुर, नोनवट, देउरी, गंगापुर में बसे गोंड, पनिका, खरवार, चेरो सहित तमाम आदिवासी समाज के लोगों के रिश्तेदारी बगल के जनपद सोनभद्र के तमाम गांव में है, शादी विवाह तक होते हैं यहां तक कि नौगढ़ के कुछ लोगों के भाई सोनभद्र जनपद में हैं जिन्हें वहां आदिवासी का दर्जा प्राप्त है ऐसी परिस्थिति में जब नौगढ़ में उपरोक्त आदिवासी समाज के लोगों को आदिवासी का दर्जा नहीं मिल पाता तो वे वनाधिकार कानून सहित सरकार द्वारा संचालित अन्य तमाम जनकल्याणकारी योजनाओं व सुविधाओं से वंचित रह जाते हैं जो इनके आर्थिक विकास में बड़ी बाधा है।
उन्होंने मांग करते हुए कहा कि नौगढ़ में निवास करने वाले लोगों को जल्द से जल्द आदिवासी का दर्जा प्राप्त हो

 

नौगढ़ तहसील संवाददाता विनोद कुमार पाल कि रिपोर्ट