Maharashtra के CM उद्धव ठाकरे ने दिया प्रवासियों को बचन, कोरोना संकट ख़त्म होते ही भेजेंगे घर

0
41

मुंबई :कोरोना वायरस Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लागू किए गए लॉकडाउन (Lockdown) का सबसे ज्यादा असर प्रवासी मजदूरों (Migrant Laborers) पर पड़ा है. इन मजदूरों के पास न तो काम बचा और न ही उन्हें अपने घर जाने की इजाजत है. ऐसे में अब महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने उन्हें आश्वासन दिया है कि कोरोना संकट समाप्त होते ही वह खुद उन्हें उनके गृहनगर पहुंचाने की व्यवस्था करेंगे.

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक उन्होंने कहा , मैं अपको वचन देता हूं कि महाराष्ट्र सरकार आपको आपके घर उसी दिन पहुंचाने की व्यवस्था करेगी, जिस दिन कोरोना संकट देश से खत्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि जब आप अपने घर पहुंचे तो आप ये सारी परेशानी भूल जाएंगे और खुश होंगे. उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि आपको आपके घर वापस जाना चाहिए.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस की महामारी को देखते हुए देश में लॉकडाउन किया गया है. इसके चलते उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के लाखों कामगार दूसरे राज्यों में फंस गए हैं. लॉकडाउन की घोषणा के बाद कई लोगों ने पैदल ही अपने गांव जाने की कोशिश की लेकिन अधिकारियों ने उन्हें रास्ते में ही रोक लिया. केंद्र ने सभी राज्य सरकारों को अपनी सीमाओं को सील करने और लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने का आदेश दिया है. इसके साथ ही राज्यों को प्रवासी मजदूरों के खाने और रहने की व्यवस्था करने को भी कहा गया है.