अशोक विजयदशमी और धम्म चक्र परिवर्तन बुद्धयान भीम ज्योति सेवा संस्थान संघ द्वारा मनया गया

0
128

आजमगढ़ सरायमीर में बुद्धयान भीम ज्योति सेवा संस्थान संघ द्वारा मनाया गया महान सम्राट अशोक धम्म विजय दशमी के पावन पर्व धम्मदीक्षा समारोह का आयोजन किया गया और बाबा साहेब डा0 भीमराव अंबेडकर के संकल्पों को पूरा करने के लिए आज सम्राट अशोक धम्म विजय दशमी इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे बसंत कुमार बौद्ध ने कहा कि
सम्राट अशोक के कलिंग युद्ध में विजयी होने के दसवें दिन तक मनाये जाने के कारण इसे अशोक विजयदशमी कहते हैं इसी दिन सम्राट अशोक ने बौद्ध धम्म की दीक्षा ली थी ऐतिहासिक सत्यता है कि महाराजा अशोक ने कलिंग युद्ध के बाद हिंसा का मार्ग त्याग कर बौद्ध धम्म अपनाएं वहां पर उपस्थित महिला संघ के अध्यक्ष बिंदु बौद्ध ने कहां की हम महिलाएं जब तक बौद्ध धर्म नहीं अपनाएंगे तब तक हमारे समाज का विकास नहीं होने वाला है हम महिलाओं को बौद्ध धर्म की दीक्षा चल बढ़कर लेना होगा और इस कार्यक्रम के संचालन कर रहे प्रबंधक डॉ उदय राज उदय राज गौतम वहां पर उपस्थित पूर्व सांसद बलिहारी बाबू और पूर्व मंत्री हीरालाल गौतम उपाध्यक्ष शीतलनंद बौद्ध बिंदु बौद्ध विनोद बौद्ध अजीत बौद्ध अनीता गौतम पिंटू गौतम दिनेश गौतम