चकमार्गो को अवैध रूप से अतिक्रमण पर चला बुलडोजर

0
60

जौनपुर/खुटहन:- थाना क्षेत्र क हैदरपुर गांव मे चकमार्गो को अवैध रूप से कब्जा जमाकर उस मकान व चहार दिवाली बनाकर अतिक्रमण कर लिए जाने के मामले मे मननीय उच्च न्यायलय के आदेश पर एसडीएम ने गंभीरता से लिया। और पुलिस बल के साथ सोमवार को मौके पर पहुंच नारायण दास के द्वारा अवैध कब्जेदार किये गये। अतिक्रमण को उपजिलाधिकारी ने जून महीने में ही कब्जा हटा लेने का समय दिया थे। लेकिन आज तक कब्जा नही हटा। मननीय उच्च न्यायलय के आदेश पर सरकारी जमीन पर किए गए अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर।

ज्ञातव्य हो कि इसी जमीन को लेकर छः साल पूर्व एक हत्या भी हो चुकी है। जिसमे आरोपित आधा दर्जन जमानत पर छूटकर आये है। गांव निवासी नारायण दास उपाध्याय का लगभग छः वर्ष पूर्व पड़ोसी नागेन्द्र उपाध्याय से इसी चकमार्ग को लेकर विवाद हुआ था। आपसी द्वेष इस कदर बढ़ा कि मारपीट हो गई। जिसमे एक पक्ष के द्वारा की गई फायरिंग मे नागेन्द्र उपाध्याय को गोली लग जाने से मौके पर ही मौत हो गई थी। तब से ही चकमार्ग खाली कराने को लेकर मृतक के परिजन मुकदमा दायर किए थे। जिला न्यायालय के बाद मामला माननीय उच्च न्यायलय तक पहुंच गया। जहाँ से चकमार्ग खाली कराये जाने का आदेश मिलते ही उसके अनुपालन मे एसडीएम शाहगंज राजेश वर्मा दल बल के साथ मौके पर पहुंच गये। पैमाइस मे आरोप सही पाया गया। उन्होने अतिक्रमणकारी को तीन दिन का अल्टीमेटम दिया है।

एसडीएम शाहगंज राजेश वर्मा द्वारा इस अवधि मे जमीन खाली न किए जाने पर जुर्माना सहित मुकदमा दर्ज कर अतिक्रमण ढहवाया जायेगा। इसकी सूचना जून माह में दे दिये थे। लेकिन आज तक चकमार्ग पर अवैध रूप से कब्जा जमाकर उस पर मकान व चहार दिवारी बनाकर अतिक्रमण था। मननीय उच्च न्यायलय के आदेश को पुलिस प्रशासन ने गंभीरता से लिया। पीएसी भारी पुलिस बल के साथ चकमार्ग पर बनाए गये दो तले का मकान, बाउन्ड्रीवाल और गेट जेसीबी मशीन लगाकर ढहवा दिया। सोमवार को उप जिलाधिकारी राजेश वर्मा, क्षेत्राधिकारी अजय श्रीवास्तव एक प्लाटून पीएसी जवान तथा कई थाने की पुलिस फोर्स और महिला कांस्टेबल के साथ मौके पर पहुंच जेसीबी मशीन से नाराएण दास उपाध्याय द्वारा किए गए अवैध निर्माण को ढहवा दिया। इस दौरान सैकड़ों ग्रमीण मौके पर तमाशबीन बने रहे।