घूमता रहा 11000 का पहलवान कोई नहीं पहुंचा हांथ मिलाने, जानिए क्यों.?

0
39

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में चंद्रकांता किले पर महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में चल रहे दो दिवसीय मेले और कुश्ती दंगल का शुक्रवार को समापन हो गया। दूसरे दिन भी नवविवाहित जोड़ों ने शिव मंदिर में पुत्ररत्न की कामना के लिए मन्नतें मांगी। कुश्ती दंगल में कई पहलवानों ने कुश्ती लड़ी। दूसरे दिन के कुश्ती दंगल का शुभारंभ मोहन साहेब ने किया और पहलवानों का आपस में हाथ मिलवाकर कुश्ती प्रारंभ कराया।

चंद्रकांता किले पर चल रहा दूसरे दिन के कुश्ती दंगल में पहलवान तेजबली ( भगवानपुर) के साथ शक्तेशगढ़ के पहलवान रामबली के साथ जोरदार मुकाबला हुआ। पहलवान तेजबली ने अपना दमखम दिखाया और रामबली को पटखनी देकर पराजित किया। इस दौरान दंगल कमेटी के द्वारा जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी रविशंकर पहलवान को कुश्ती में पराजित करने पर ₹11000 की राशि इनाम रखा लेकिन कोई भी पहलवान हाथ मिलाने नहीं आया।

मोहन साहेब ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी मोबाइल के जंजाल में फंसकर रह गई है। हमें युवाओं व बच्चों को अपनी परंपरा प्राचीन खेलों की जानकारी देकर उसे जीवंत रखने का प्रयास करना होगा।

महाशिवरात्रि मेला व दंगल कमेटी के अध्यक्ष तथा सेक्टर नंबर 2 के प्रत्याशी वीरेंद्र प्रताप सिंह ने पहलवानों को ₹5000 तथा अन्य जोड़ी के विजयी पहलवानों को भी नगदी देकर सम्मानित किया गया।

इस मौके पर नरसिंह यादव, दुलारे यादव, जिलाजीत यादव, दीपक , सतीश यादव, बुधिराम यादव, प्रदीप केसरी, समइ प्रसाद सहित विभिन्न गांवों से आए पहलवान तथा ग्रामीण मौजूद रहे।

साजु थॉमस, चन्दौली