डिजिटल सुविधा से लैस होंगे छह अस्पताल

0
164

अंबेडकरनगर। मरीजों के लिए राहत की खबर है। जिला अस्पताल के साथ ही प्रत्येक तहसील के एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को डिजिटल किया जाएगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अभियान के तहत लगभग 75 लाख रुपये की लागत से सभी छह अस्पतालों को डिजिटल करने के लिए जरूरी उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे। अस्पतालों के डिजिटल होने के बाद पर्ची पर दर्ज एक कोड के माध्यम से मरीज के कहीं भी इलाज के दौरान महज एक क्लिक करने पर उसके इलाज का पूरा विवरण प्राप्त किया जा सकेगा। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शीघ्र ही शासन से राशि उपलब्ध होने पर संबंधित अस्पतालों को डिजिटल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।मरीजों के समूचे इलाज को अब डिजिटल व्यवस्था से जोड़ा जा रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन योजना के तहत डिजिटल इलाज योजना के तहत जिले में जिला अस्पताल के अलावा प्रत्येक तहसील के एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को डिजिटल किया जाएगा। इसके तहत मरीजों की पर्ची अब डिजिटल होगी। इसमें एक कोड होगा। उस कोड के माध्यम से ही उनका इलाज किया जाएगा। ऐसे में यदि मरीज को रेफर किया जाता है, तो संबंधित अस्पताल में पर्ची पर दर्ज कोड को कंप्यूटर पर एक बार क्लिक करने पर उसके इलाज की समूची प्रक्रिया सामने आ जाएगी, जिससे संबंधित चिकित्सक को मरीज का इलाज करने में सहायता मिलेगी। पूरा इलाज डिजिटल होने के चलते मरीजों को इधर-उधर भटकना भी नहीं पड़ेगा।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला समन्वयक अनिल मिश्र ने बताया कि योजना के तहत जिले में जिला अस्पताल के अलावा प्रत्येक तहसील में एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को डिजिटल किया जा रहा है। इसके लिए शासन से जिले को 75 लाख रुपये की राशि मिली है। इसमें 41 लाख 57 हजार रुपये की लागत से जिला अस्पताल को डिजिटल किया जाएगा। शेष राशि से सभी पांच सीएचसी को डिजिटल किया जाएगा।
बताया कि मरीज के इलाज की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। पर्ची पर दर्ज कोड के माध्यम से कोई भी यह जानकारी हासिल कर सकेगा कि मरीज का इलाज किस चिकित्सक ने किया है और उसे कौन-कौन सी दवाएं दी गई हैं। इसके अलावा रेफर करने की दशा में भी संबंधित चिकित्सक को इलाज में आसानी होगी। सिर्फ उसे कंप्यूटर पर पर्ची पर दर्ज कोड को डालकर क्लिक करना होगा। कहा कि प्रथम चरण में अभी जिला अस्पताल व पांच सीएचसी को डिजिटल किया जा रहा है। आने वाले समय में सभी सीएचसी को डिजिटल किया जाएगा।
41 लाख रुपये से जिला अस्पताल होगा डिजिटल
सीएमएस डॉ. ओमप्रकाश ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अभियान के तहत जिला अस्पताल को डिजिटल किया जाएगा। लगभग 41 लाख रुपये की लागत से जिला अस्पताल को डिजिटल करने के लिए जरूरी उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे। जिला अस्पताल का डिजिटल होना मरीजों के बेहतर इलाज में मील का पत्थर साबित होगा। शासन से राशि उपलब्ध होने के साथ ही जिला अस्पताल को डिजिटल किए जाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जाएगी।
मरीजों को मिलेगा लाभ
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अभियान के तहत जिले के प्रत्येक तहसील के एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को डिजिटल किया जाएगा। इसके लिए जरूरी प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। संबंधित अस्पतालों के डिजिटल होने से मरीजों को व्यापक लाभ मिलेगा।