मुंबई/क्या महाराष्ट्र में दहीहंडी उत्सव का होगा आयोजन,क्या बोले मुख्यमंत्री ?

0
60

मुंबई : देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर कम होने के बाद ज्यादातर राज्यों में अनलॉक की शुरुआत हो चुकी है. हालांकि संभावित तीसरी लहर को देखते हुए तमाम एहतियात बरते जा रहे हैं. महाराष्ट्र में भी पाबंदियों के साथ अनलॉक की शुरुआत हो चुकी है. इन सबके बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने दहीहांडी (Dahi Handi) त्योहार के आयोजकों से सोमवार को कहा कि राज्य को कुछ समय के लिए त्योहारों को किनारे रखकर कोरोना संक्रमण को पूरी तरह समाप्त कर उदाहरण पेश करना चाहिए. आयोजकों की वर्चुअल बैठक में उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान लोगों के स्वास्थ्य को प्राथमिकता दी जानी चाहिए.जन्माष्टमी के त्योहार पर दहीहांडी उत्सव का आयोजन होता है. माखन-मिश्री से भरी हांडी को ऊंचाई पर टांगा जाता है और युवा मानव पिरामिड बनाकर उसे तोड़ते हैं. महाराष्ट्र में इस उत्सव को राजनीतिक संरक्षण मिला हुआ है और विभिन्न राजनीतिक दल दहीहांडी उत्सव का आयोजन करते हैं और गोविंदा (हांडी तोड़ने वाले) के लिए इनाम की घोषणा करते हैं.मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी बयान के अनुसार, दहीहांडी के आयोजक भी ठाकरे की अपील के पक्ष में हैं और वे जन्माष्टमी के अवसर पर स्वास्थ्य संबंधी गतिविधियों के आयोजन के पक्ष में हैं. लेकिन, भारतीय जनता पार्टी ने कुछ शर्तों के साथ पारंपरिक तरीके से दहीहांडी उत्सव के आयोजन को अनुमति देने की मांग की है.