बलरामपुर : रिश्ता दरबार बना क्वारंटाइन सेंटर

0
84

बलरामपुर : बिना आवश्यक कार्य के घर से बाहर न निकलें। सभी एसडीएम लॉक डाउन का पालन सख्ती से कराएं। सड़क व घरों के बाहर भीड़ लगाने वालों पर कार्रवाई करें। एक से पांच अप्रैल तक राशन वितरण किया जाएगा। कोटेदार मास्क लगाकर राशन वितरित करेंगे। शारीरिक दूरी का पालन भी सुनिश्चित करें।
यह बात जिला अधिकारी कृष्णा करुणेश ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए की जा रही तैयारी की समीक्षा के दौरान कही। कहाकि कोटेदार दुकान के सामने एक मीटर की दूरी पर गोला बनाकर ही राशन वितरित करेंगे। 101 न्याय पंचायतों में जिन स्कूलों को क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया है। वहां डीपीआरओ बेड की व्यवस्था करा दें। नियमित सफाई के सफाई कर्मियों की ड्यूटी लगा दें। चारों नगरीय क्षेत्रों बलरामपुर में एमपीपी इंटर कॉलेज, रिश्ता दरबार, उतरौला में स्कालर्स एकेडमी, एचआरए इंटर कॉलेज, तुलसीपुर में अखिलेश्वर व बसंत लाल इंटर कॉलेज व पचपेड़वा में फजले रहमानिया इंटर कॉलेज एवं मदरसा फजले रहमानिया को शेल्टर व क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है। इसमें बाहर से आने वाले लोगों को रोका जाएगा। निराश्रितों को भी भोजन आदि मिलेगा, लेकिन उसे 17 दिनों तक वहीं रूकना होगा। जिला विद्यालय निरीक्षक को सहायता प्राप्त विद्यालयों को चिह्नित करने, सीबीओ को पशु आश्रय स्थलों की निगरानी करने व सभी ईओ को नगर क्षेत्र में नियमित सैनिटाइज कराने का निर्देश दिया है। सीडीओ अमनदीप डुली, एडीएम अरुण कुमार शुक्ल, एसडीएम डॉ. नगेंद्र नाथ यादव, अरुण कुमार गौड़, विनोद कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. घनश्याम सिंह व अपर सीएमओ डॉ. एके सिघल मौजूद रहे।
एसडीएम ने लिया जायजा : एसडीएम नगेंद्र नाथ व सीओ सिटी राधामरण ने रिश्ता दरबार में बेड समेत अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। एसडीएम ने बताया कि सफाई कर्मी, चिकित्सक व रसोइयां की तैनाती कर दी गई है।