उत्तर प्रदेश/ बारिष ने बढ़ाई किसानों की मुश्किलें, पिछड़ सकती है आलू की बुआई

0
10

उत्तर प्रदेश/धान की रोपाई के समय जब पानी की आवश्यकता थी तब मानसून बनके भी वर्षा नहीं हुई किसान लालायित नजरों से बादल को देखकर खुश हो जा रहा था मानसून बनके चला जाता था और किसान मायूस हो जाता था ।
धान की फसल के लिए जँहा किसान बरसात के लिए परेशान था वंही अब पछेती बरसात से भी परेसान हो जा रहा है। खेत की नमी कुछ सूखे उससे पहले बरसात हो जा रही है जो किसान की चिंता का विषय होता जा रहा है।
हमारे केमास न्यूज के स्ट्रिंगर निशान्त गौतम से बात करते हुए क्षेत्रीय किसानों रामअवतार यादव, अच्छेलाल यादव, रामनयन, लालसा प्रसाद, साहबदीन ने मौसम पर ना हुई बारीष और बिना मौसम की हो रही बरिष पर आलू जैसी फसलों की बुआई पीछे जाने की चिन्ता प्रकट की। रामअवतार यादव ने कहा यदि बारिष ऐसे होती रही तो आलू के उत्पादन पर काफी असर होगा और आलू की मांग के आधार पर उसके मूल्य में भी काफी वृद्धि हो सकती है इसलिए असमय बारिष के होने से काफी नुकसान हो रहा है