जिलाधिकारी ने शौचालय घोटाले मे प्रधान सचिव व अवर अभियन्ता को निलंबित कर धन वसूली का दिया निर्देश

0
45

आजमगढ़ /निजामाबाद :- शिकायतकर्ता द्वारा शिकायत की गयी कि ग्राम पंचायत सेवटा,

आजमगढ विकास खण्ड जहानागंज में अपात्र लाभार्थियों को शौचालय की कुल धनराशि 168000 रू0 वितरित की गयी है। जिसकी जांच जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा करायी गयी, जिसमें ग्राम प्रधान व सचिव दोषी पाये गये। जिस पर जिलाधिकारी ने सचिव के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करने एवं प्रधान व सचिव से उक्त धनराशि वसूल करने के निर्देश दिये।इसी के साथ ही शिकायतकर्ता द्वारा शिकायत की गयी कि गम्भीरवन में निर्गत गाइड लाइन के विपरीत एक ही प्रोजेक्ट (सीसी रोड) का कार्य कई भागों में बांटकर कराया गया है, जिसमें रू0 66000 की अनियमितता पायी गयी है, जिसकी जांच जिलाधिकारी द्वारा करायी गयी, जिसमें प्रधान, सचिव व अवर अभियन्ता दोषी पाये गये हैं। जिस पर जिलाधिकारी ने उक्त प्रकरण में सचिव व अवर अभियन्ता को निलम्बित करने एवं प्रधान, सचिव एवं अवर अभियन्ता से उक्त धनराशि को वसूल करने के निर्देश दिये हैं।