डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर गांव के नवयुवकों ने कैंडल मार्च निकाला

0
39

बरईपुरा(गाजीपुर)/गाजीपुर जिले के मनिहारी ब्लॉक अंतर्गत बरईपुरा गांव से नवयुवकों ने 50 की संख्या में कैंडल जलाकर गांव -गांव में मार्च किया। इस अवसर पर जय भीम के उद्घघोष के साथ सिवाना, उसररहिया, नरवा बस्ती, पहेलियां चट्टी होते हुए बरई के पूरा में समापन किया। आपको बताते चलें कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस को गांव- गांव में इसलिए माना जा रहा है कि, वे संविधान के निर्माता के साथ – साथ एक बड़े समाज सुधारक और विद्वान थे। इनका निधन 6 दिसंबर 1956 को दिल्ली स्थित उनके घर पर हुआ था। 06 दिसंबर उनकी पुण्यतिथि है, उनकी पुण्यतिथि को महापरिनिर्वाण दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

मनिहारी ब्लॉक से पत्रकार शशीकांत