संदिग्ध परिस्थितियों में पुआल में जलता हुआ मिला छात्रा का शव

0
76

प्रयागराज/शंकरगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत बजड्डी गांव में धान के पुआल में लगी आपको देख ग्रामीणों के द्वारा जहां पुआल में किसी शरारती व्यक्ति के द्वारा आग लगाए जाने की आशंका में 112 नंबर पर सूचना दी गई। वही मौके पर पहुंची पुलिस जलते हुए पुवाल को देख कर के वापस चली आई। लेकिन जैसे ही पुआल की आग हल्की हुई वहां पर पहुंचे कुछ ग्रामीणों ने देखा कि जलते हुए पुआल के बीच में एक मानव शव भी जल रहा है। जिसकी सूचना पूरे गांव में आग की तरह फ़ैल गयी।वही मौके पर पहुंचे गांव के ही रहने वाले अवधेश वर्मा के परिजनों के द्वारा आग में जलते हुए शव को देख बिना किसी पहचान के ही जलते हुए शव को प्रियंका वर्मा पुत्री अवधेश वर्मा उम्र 18 वर्ष के रूप में की। जिसके बाद ग्रामीणों के द्वारा तत्काल ही घटना के बारे में ग्राम प्रधान के साथ-साथ शंकरगढ़ पुलिस को भी सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस के द्वारा ग्रामीणों की सहायता से पुवाल की आग में जल रहे शव को किसी तरह से बाहर निकाला गया और फिर शव को शंकरगढ़ पुलिस के द्वारा कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। जबकि पूरी तरह से जल चुकी है शव को परिजनों के द्वारा पोस्टमार्टम न कराने की गुजारिश मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों से की जाती रही। लेकिन पुलिस के द्वारा घटना को संदिग्ध मानते हुए पोस्टमार्टम कराने की बात कही गई। वही गांव के ही कई ग्रामीणों के द्वारा यह चर्चा की जा रही है कि पूरी तरह से जल चुके शव को देख कर के परिजन यह कैसे पहचान कर पाए कि जला हुआ शव उनकी बेटी प्रियंका वर्मा का ही है। जिन परिस्थितियों में जले हुए शव को पाया गया उसमें ग्रामीणों के द्वारा यह आशंका जताई जा रही है की कहीं युवती की किसी ने हत्या कर जानबूझकर के तो पुवाल में आग तो नहीं लगा दी। जिसके कारण पूरी घटना ही संदेह के दायरे में है वही पुलिस के लिए यह जांच का विषय है जबकि स्थानीय पुलिस भी हत्या व आत्महत्या के बीच उलझी इस गुत्थी को सुलझाने के प्रयास में लगी हुई है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ जाने के बाद ज्यादातर राज अपने आप ही खुल जाएंगे।