निजामाबाद(आजमगढ़): छिटपुट घटनाओं के बीच शान्‍ति पूर्वक सम्‍पन्‍न हुआ चुनाव

0
42

आजमगढ़ निज़ामाबाद विधानसभा क्षेत्र में चुनाव शांति पूर्वक ढंग से संपन्न हुआ कही से भी किसी प्रकार की अप्रिय घटना नही घटी।सुबह से ही लोगो की भीड़ मतदान केंद्र पर पहुचनी शुरू हो गई मगर धीरे धीरे दोपहर होते होते भीड़ घटनी शुरू हो गई नतीजा यह था कि 5 बजे के बाद कोई वोट देने वाला ही नही था।निज़ामाबाद विधानसभा के पूरे क्षेत्र में 50 ℅ तक मतदान हुआ हुसामपुर बड़ा गांव जूनियर हाई स्कूल के मतदान केंद्र पर मशीनों के दो बार बंद होने से कुछ घंटों के लिए मतदान बंद रहा बाद में मशीन के सही होने पर फिर मतदान हुआ।

वहीं आजमगढ. लोकसभा चुनाव 2019 में छठे चरण के मतदान के दौरान आजमगढ़ संसदीय सीट के डीएवी इंटर कालेज में बने बूथ पर भाजपा ने व कार्यकर्ताओं का भगवा गमछा उतारने को लेकर वहां तैनात दरोगा से विवाद हो गया। इस दौरान दोनों पक्षों में तीखी नोकझोक हुई। इस दौरान भाजपा नेताओं ने सपा के लोगों के बूथ में घुमाने और भाजपाइयों से दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया। इस बात की शिकायत आलाधिकारियों से भी की गयी है।

बता दें कि डीएवी इंटर कालेज शहर के मध्य में है। यहां मतदान केंद्र बनाया गया है। उक्त केंद्र पर दोपहर तक शांतिपूर्ण ढंग से मतदान चल रहा था। इसी दौरान सड़क से बीजेपी के नेता व पूर्व सभासद विश्वजीत सिंह पालीवाल कुछ कार्यकर्ताओं के साथ सड़क से गुजर रहे थे। डीएवी गेट के सामने सुरक्षा के लिए तैनात एसआई गिरिराज सिंह ने विश्वजीत और उनके साथियों से गमछा उतारने को कहा। लोगों ने विरोध किया और बताया कि वे रास्ते से जा रहे तब भी एसआई नहीं माने। फिर क्या था दोनों पक्षों में तीखी झड़प शुरू हो गयी। सूचना के बाद बड़ी संख्या में भाजपाई और पुलिस के जवान वहां पहुंच गए। किसी तरह से समझा-बुझाकर मामले को शान्त कराया गया।
वहीं सगड़ी तहसील के हरैया ब्लाक अंतर्गत ग्राम सभा सेठाकोली में मत दान के समय ग्रामीणों ने एक पीठासीन अधिकारी पर एक पार्टी के पक्ष में मतदान कराने व बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया सूचना मिलते ही मतदान में लिप्त कर्मचारियों में सुरक्षाकर्मियों में हड़कंप मच गया जैसे ही रौनापार थाना अध्यक्ष को इस बात की जानकारी हुई उन्होंने फोर्स के साथ मौके पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लेते हुए मोर्चा संभाल लिया समाचार लिखे जाने तक स्थित सामान्य थी ।